IAS Officer Kaise bane -2022 में सब्जेक्ट, सैलरी, एग्जाम,परसेंट सबकुछ जानें

IAS Officer Kaise bane – puri jankari Step by Step

आज हम आपके लिए आईएएस ऑफिसर कैसे बनें इसकी पूरी जानकारी लेकर आए हैं।

इस article को पूरा पढ़िए ताकि आपको आईएएस ऑफिसर बनने के लिए क्या करें इसकी पूरी इन्फॉर्मेशन मिल सके।

यूपीएससी (UPSC) के माध्यम से सिविल सर्विस एग्जाम कराया जाता है जिसकी लाखों स्टूडेंट्स तैयारी करते हैं।

इसमें  सलेक्शन के बाद आईएएस,  आईपीएस, आईआरएस और आईएफएस ऑफिसर बनते हैं।

मेडिकल, इंजीनियरिंग और एमबीए की तरह बहुतों का सपना होता है कि वो यूपीएससी एग्जाम क्लीयर करके आईएएस जैसे उच्च पद को हासिल करें।

Advertisement

अगर आप भी उनमें से एक हैं  जो जानना चाहते है की IAS Officer Kaise bane तो यह आर्टिकल आपकी बहुत मदद करेगा।

IAS ka Full Form –

आईएएस का फुल फॉर्म होता है – Indian Administrative Service

आईएएस अधिकारी का काम क्या होता है-

एक आईएएस अधिकारी का काम लोक प्रशासन का होता है।

यानि सरकार जो भी नीतियां बनाती है आईएएस अधिकारी उनको सही तरीके से लागू करवाते हैं।

ये अधिकारी इन नीतियों और योजनाओं को बनाने में सलाह भी देते हैं।

इनके पास सरकारी विभागों से जुड़े काम होते हैं

जिनके माध्यम से ये अपने क्षेत्र में होने वाले विकास कार्यों की निगरानी करते हैं।

इसके अलावा आम जनता अपनी परेशानियों के निराकरण के लिए भी इनसे संपर्क कर सकती है।

दोस्तों आगे आने वाले सेक्शन्स में हम आईएएस ऑफिसर बनने के लिए सब्जेक्ट के बारे में विस्तार से बता रहे हैं तो आप हमारे साथ जुड़े रहिए।

IAS officer banne ke liye 11th me konsa subject lena chahiye

IAS officer banne ke liye 11th me konsa subject lena chahiye

दोस्तों ये सबसे अहम सवाल है जो आईएएस बनने की चाहत रखने वाले हर स्टूडेंट को परेशान करता है कि आईएएस ऑफिसर बनने के लिए 11th में कौन सा सब्जेक्ट लेना चाहिए?

अगर आप भी ऐसी उलझन में हैं तो इस सेक्शन में आपके लिए इसका हल है।

यूपीएससी एग्जाम में आपके चुने हुए ऑप्शनल सब्जेक्ट के दो पेपर होते हैं इसलिए सबसे जरूरी बात है कि आपका इंट्रेस्ट और आपकी योग्यता कौन से सब्जेक्ट में है।

बस आपको इन्हीं दो बातों को ध्यान में रखते हुए 11th के बाद आईएएस बनने के लिए कौन सा सब्जेक्ट लेना चाहिए ये decide करना होगा।

आपने जरूर कहीं पढ़ा या सुना होगा कि आर्ट्स बैकग्राउंड के स्टूडेंट्स को आईएएस एग्जाम में ज्यादा सफलता मिलती है

पर आप चाहे आर्ट्स लें, साइंस या कॉमर्स तीनों में ही बराबर संभावना है

अगर आप पूरी लगन और मेहनत के साथ आईएएस एक्जाम की तैयारी करते हैं।

ये भी पढ़े – बीए क्या है पूरी जानकारी , बीए की फीस जानें

ये भी पढ़े –  बी.कॉम क्या होता है?

इ भी पढ़े – बीएससी में कौन-कौन से सब्जेक्ट होते है ?

12वीं के बाद आईएएस कैसे बनें – 12th ke bad IAS Officer Kaise bane

अब जानते हैं कि 12वीं के बाद आईएएस कैसे बनें

तो सबसे पहले आपको ग्रेजुएशन करना होगा क्योंकि आईएएस बनने के लिए मिनिमम योग्यता ग्रेजुएशन है।

IAS Officer Kaise bane
IAS Officer Kaise bane

अगर आप 12वीं में यह तय कर चुके हैं कि आपको आईएएस बनना है तो आपके पास तैयारी करने के लिए पर्याप्त समय है।

आगे हम आपको आईएएस के सिलेबस की पूरी जानकारी दे रहे हैं उसमें से काफी हिस्से की तैयारी आप 12वीं करने के साथ शुरु कर सकते हैं।

जैसे कि आप देश और दुनिया में हो रहे घटनाक्रम पर नज़र रखें और नोट्स बनाते जाएं ताकि इन पर आपकी अच्छी पकड़ बन जाए।

  • NCERT की किताबें पढ़ें।
  • इसके अलावा रीज़निंग,
  • 10th लेवल तक के गणित की पढ़ाई भी करें ताकि आने वाले समय में आपको अपने ऑप्शनल सब्जेक्ट की तैयारी के लिए ज्यादा वक्त मिल सके।

IAS officer banne ke liye subject –

यूपीएससी की ऑप्शनल सब्जेक्ट लिस्ट में आईएएस ऑफिसर बनने के लिए आर्ट्स, साइंस, कॉमर्स, इंजीनियरिंग या मेडिकल स्ट्रीम से जुड़े कई सब्जेक्ट्स होते हैं।

आप अपनी क्वालीफिकेशन और रुचि के अनुसार इनमें से एक सब्जेक्ट सलेक्ट कर सकते हैं।

इसके साथ भारतीय भाषाओं में से कोई एक भाषा और अंग्रेजी भी पढ़नी होती है।

IAS बनने के लिए क्या योग्यता होनी चाहिए –

IAS बनने के लिए न्यूनतम योग्यता स्नातक है। आपके पास किसी भी स्ट्रीम से ग्रेजुएशन की डिग्री होनी चाहिए।

इसमें मिनिमम मार्क्स जैसी कोई कंडीशन नहीं होती है।

अगर आप ग्रेजुएशन के फाइनल इयर में हैं तो भी आईएएस का एग्जाम दे सकते हैं।

तो यह थी आईएएस बनने के लिए क्या योग्यता होनी चाहिए इसकी जानकारी।

अब आगे बढ़ते हैं।

IAS ke liye age limit kya hai ?

अब जानते हैं कि आईएएस के लिए एज लिमिट क्या है?

आईएएस बनने के लिए उम्मीदवार की न्यूनतम आयु 21 वर्ष होनी चाहिए। अधिकतम आयु सीमा इस प्रकार है-

  • सामान्य वर्ग- 32 वर्ष
  • ओबीसी- 35 वर्ष
  • एससी/एसटी- 37 वर्ष
  • भूतपूर्व सैनिक जो सर्विस के दौरान डिसेबल हुए- 37 वर्ष
  • दिव्यांग- 42 वर्ष

आईएएस के लिये एज लिमिट में कुछ एक्सेपशन हैं जिनकी जानकारी अब हम आपको देंगे।

जम्मू-कश्मीर के नागरिकों के लिए अधिकतम आयु सीमा

  • जनरल- 37 वर्ष
  • ओबीसी- 40 वर्ष
  • एससी/एसटी- 42 वर्ष
  • सामान्य और ओबीसी के दिव्यांग उम्मीदवार- 42 वर्ष और एससी/एसटी के दिव्यांग
    उम्मीदवार के लिए कोई अधिकतम आयु सीमा नहीं रखी गई है।

ध्यान देने की बात यह है कि आइएएस एग्जाम के लिए आयु की गणना 1 अगस्त की तारीख को आधार बनाकर की जाती है।

अब बात करते हैं कि

आईएएस बनने के लिए कितने मौके (attempt) मिलते हैं।

  • सामान्य वर्ग- 6
  • ओबीसी- 9
  • एससी/एसटी- तब तक एक्जाम देते रह सकते हैं जब तक अधिकतम उम्र नहीं पार हो जाती।
12th ke bad IAS Officer Kaise bane
12th ke bad IAS Officer Kaise bane

IAS Banne ke liye Syllabus

यूपीएससी एग्जाम की गिनती सबसे कठिन एक्जाम्स में की जाती है।

इसलिए आपको यूपीएससी का सिलेबस क्या है और एग्जाम पैटर्न कैसा होता है

यह अच्छी तरह समझना होगा ताकि आप बेहतर ढंग से तैयारी कर सकें।

सबसे पहले जानते हैं कि इसका सिलेबस क्या होता है?

आईएएस एग्जाम के सिलेबस में जनरल अवेयरनेस, सिविल सेवा योग्यता, ऑप्शनल सब्जेक्ट, भारतीय भाषा, अंग्रेजी जैसे विषयों के पेपर होते हैं।

जनरल अवेयरनेस– इसमें राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय घटनाएं, स्वाधीनता संग्राम, इनवायरमेंट, राजनीतिक घटनाक्रम, आर्थिक और सामाजिक विषयों पर 100 सवाल पूछे जाते हैं।

सिविल सेवा योग्यता जिसे CSAT भी कहा जाता है, इसमें कॉम्प्रिहेंशन, रीजनिंग और एनालिटिकल एबिलिटी, मेंटल एबिलिटी, और बेसिक मैथ्स से संबंधित 80 सवाल पूछे जाते हैं।

ऑप्शनल सब्जेक्ट आपके ग्रेजुएशन के सब्जेक्ट्स में से कोई एक हो सकता है जैसे कैमिस्ट्री, गणित, साइकोलाॅजी या कुछ स्टूडेंट्स अपने ग्रेजुएशन से अलग लोक प्रशासन, इतिहास जैसे सब्जेक्ट्स लेते हैं।

आप जो भी विषय लेते हैं आपको उसे बहुत डीटेल में पढ़ना होता है।

इसे भी पढ़े – ग्रेजुएशन में कौन-सा सब्जेक्ट लें – Best Subject

भारतीय भाषा के लिए संविधान की आठवीं अनुसूची में शामिल कोई भी एक भाषा जैसे गुजराती, कन्नड़, बंगाली का चयन किया जा सकता है।

नार्थ ईस्ट के कैंडिडेट्स के लिए यह पेपर छुट होता है।

इसी तरह एक पेपर अंग्रेजी का होता है।

कुल मिलाकर यह कहा जा सकता है कि इन दो पेपर में आपकी भाषा की समझ, लेखन कला, व्याकरण, vocabulary की नॉलेज को समझने वाले प्रश्न होते हैं।

एक पेपर निबंध का होता है जिसमें एक या दो निबंध दिए गए विषय पर लिखने होते हैं।

दोस्तों एग्जाम का सिलेबस बहुत बड़ा है फिर भी हमें उम्मीद है ये जानकारी आपको अच्छी तरह समझ आ गई होगी।

IAS banne ka Exam Pattern –

दोस्तों अब जानते हैं कि इस एग्जाम का पैटर्न क्या होता है?

इस एग्जाम में तीन चरण होते हैं।

  1. पहला चरण प्रारंभिक परीक्षा (prelim) होता है। इसे Pre exam भी कहते हैं।
  2. दूसरा चरण में मुख्य परीक्षा (मेन्स) और
  3. तीसरे चरण में इंटरव्यू (साक्षात्कार) होता है।

 

अब यूपीएससी एग्जाम पैटर्न क्या होता है इसे विस्तार से समझते हैं।

पहला चरण– (प्रिलियम) इसमें दो ऑब्जेक्टिव पेपर होते हैं जो 200-200 नंबर के होते हैं। ये पेपर सामान्य अध्ययन और सिविल सेवा योग्यता परीक्षा के होते हैं। इनके लिए 2-2 घंटे का समय दिया जाता है। इसमें माइनस मार्किंग होती है।

दूसरा चरण यानि मेन्स में नौ पेपर होते हैं जिसमें दो पेपर 300-300 नंबर होते हैं। इनमें एक अंग्रेजी और एक भारतीय भाषा का पेपर होता है।

बाकी के 7 पेपर 250-250 नंबर के होते हैं। इनमें चार पेपर जनरल स्टडीज के, दो आपके चुने हुए ऑप्शनल सब्जेक्ट और एक निबंध का पेपर होता है। इनके लिए तीन-तीन घंटे का समय दिया जाता है।

तीसरा चरण यानि साक्षात्कार के लिए 275 नंबर निर्धारित किए गए हैं। इसमें एक पैनल (कुछ लोगों का समूह) होता है,

जो उम्मीदवार से सवाल करता है जिससे उसकी पर्सनालिटी, कॉमनसेंस, निर्णय लेने की क्षमता, प्रेशर हैंडलिंग और इंटेलीजेंस चेक की जा सके। इसके लिए 45 मिनट का समय निर्धारित किया गया है।

तो ये थी एग्जाम पैटर्न की जानकारी। अब आगे बढ़ते हैं।

IAS Officer Banne ka Selection process –

दोस्तों अब आईएएस का सलेक्शन प्रोसेस समझते हैं। सबसे पहले आपको प्रिलियम (प्री एग्जाम ) के पेपर I में अच्छा स्कोर करना चाहिए |

क्योंकि इन मार्क्स के आधार पर मेन्स एक्जाम की मेरिट लिस्ट बनाई जाती है।

पेपर II यानि CSAT में कम से कम 33% नंबर लाने होते हैं तभी आप मेन्स के लिए क्वालीफाई कर सकते हैं।

हालांकि ये नंबर मेरिट लिस्ट में नहीं जुड़ते।

दूसरे चरण के नौ पेपर में से लैंग्वेज के दो पेपर क्वालीफाई करने के लिए और बाकी सात मेरिट लिस्ट बनाने के लिए काउंट किए जाते हैं।

तीसरे चरण यानि इंटरव्यू के बाद एक फाइनल मेरिट लिस्ट तैयार की जाती है और चुने हुए उम्मीदवारों की ट्रेनिंग शुरु होती है।

IAS officer salary – IAS Officer Kaise bane

अब आपके मन में ये सवाल उठना स्वाभाविक है कि आईएएस ऑफिसर को कितनी सैलरी मिलती है?

आईएएस ऑफिसर की सैलरी उनके ग्रेड के अनुसार होती है।

सातवें वेतनमान के लागू होने के बाद अब आईएएस ऑफिसर की मिनिमम सैलरी 56,100 रुपये और अधिकतम सैलरी 250,000 रुपये तक हो सकती है।

इसे भी पढ़े – IPS कैसे बने – पूरी जानकारी

इसके अलावा कई अन्य सुविधाएं और भत्ते जैसे टीए, डीए, सिक्योरिटी गार्ड, सरकारी वाहन, घरेलू कामों के लिए स्टाफ, आवास, हेल्थकेयर, फोन, बिजली शामिल है।

इसके अलावा रिटायर होने पर पेंशन, ग्रेच्युटी जैसे लाभ भी मिलते हैं।

IAS Officer Kaise bane – आईएएस ऑफिसर कैसे बने

  1. किसी भी स्ट्रीम से 12th’की पढाई पूरी करें
  2. 12th के बाद ग्रेजुएशन की पढाई पूरी करें
  3. ग्रेजुएशन के बाद UPSC का फॉर्म ऑनलाइन अप्लाई करना होगा
  4. फॉर्म अप्लाई करने के बाद आपका एग्जाम होगा
  5. UPSC प्रीलिम्स की परीक्षा पास करे
  6. UPSC मैन्स की परीक्षा पास करना होगा
  7. फिर इंटरव्यू को क्लियर कर के आप एक आईएएस बन सकते है

Conclusion –

तो दोस्तों यह थी आईएएस कैसे बनते हैं  IAS Officer Kaise bane – इसकी जानकारी।

आप अगर पूरी लगन के साथ तैयारी करते हैं तो आपको भी सफलता मिलेगी।

अपने ये भी जाना कि आईएएस बनने के लिए क्या करना पड़ता है

ये आर्टिकल आपको कैसा लगा हमें कमेंट करके बताएं। साथ ही अगर कोई सवाल या सुझाव है तो भी आपका स्वागत है। इसे आर्टिकल को अधिक से अधिक शेयर करें।

Article by – Nidhi Neer

HOME PAGE पर जाएँ – यहाँ क्लिक करें

Leave a Comment