MA ke baad kya kare -कुछ ऐसे कोर्सेज जिसमे आपका भविष्य बहुत बेहतर होगा –

“MA ke baad kya kare” – जी हाँ दोस्तों , आज कि ये आर्टिकल उन सभी के लिए बहुत ज्यादा महत्वपूर्ण होगी जो कि जानना चाहते है कि MA ke baad kya kare – (What to do after M.A in Hindi)

“एम ए के बाद क्या करें -” यह सवाल अक्सर ही  students के मन में आता है लेकिन आपको बिल्कुल भी सोचने की आवश्यकता नही है क्यूंकि हमने इस लेख में आपकी ये समस्या का समाधान कर दिया है |

आप इस आर्टिकल को पूरा पढ़ लेंगे तो आपको पूरी तरह समझ में आ जाएगा की एम ए के बाद क्या करना चाहिए ?

एम ए (मास्टर ऑफ आर्ट्स) के बाद क्या करना चाहिए यह पूरी तरह से विद्यार्थी के आर्थिक जरूरत या आगे पढ़ने की चाह पर निर्भर करता है।

विद्यार्थी अपने लिए बेहतर भविष्य चुन सके, इसलिए हमने अपने इस आर्टिकल में M.A ke baad career opportunities और M.A ke baad Courses के बारे में detail में बताया है।

MA ke baad kya kare in Hindi

अगर विद्यार्थी एमए के बाद आगे भी पढ़ाई करना चाहता है और भविष्य में अपने लिए बेहतरीन jobs सुरक्षित करना चाहता है तो उसे M.A. ke baad Courses/study करनी चाहिए।

MA ke baad kya kare puri jankari
MA ke baad kya kare puri jankari

अगर विद्यार्थी का लक्ष्य बैंक, रेलवे, पुलिस, भारतीय सेना आदि में सरकारी नौकरी करना है तो M.A के तुरंत बाद government job preparation में लग जाना चाहिए।

जबकि अगर student की आर्थिक स्थिति अच्छी नहीं है या फिर वो future में studies नहीं करना चाहता, तो उसे M.A. ke baad Job शुरू कर देनी चाहिए।

एमए(M.A.) के बाद Courses/ Study

एमए के बाद आगे पढ़ाई करना एक बहुत ही अच्छा फैसला है क्योंकि इस पढ़ाई के माध्यम से आगे आपको आसानी से नौकरी मिल जायेगी।

1. बैचलर ऑफ एजुकेशन (B.Ed.)

B.Ed. दो साल का डिग्री कोर्स है जिसमें मुख्यता बच्चों को पढ़ाने के अलग-अलग तरीकों के बारे में पढ़ाया जाता है। एमए करने के बाद B.Ed. करने से पीजीटी complete मानी जाती है।

एमए + बीएड के बाद उम्मीदवार सरकारी और प्राइवेट दोनों तरह के स्कूल में 12 वीं तक के बच्चों को पढ़ाने के लिए योग्य हो जाता है।

2. मास्टर ऑफ फिलासफी (M.Phil.)

एम.फिल का कोर्स 2 साल का होता है, जिसमें विद्यार्थी को थ्योरी और प्रैक्टिकल दोनों तरह का ज्ञान मिलता है।

इसमें विद्यार्थी को अपने चुने हुए विषय में रिसर्च भी करनी होती है।

M.Phil. की study complete करने के बाद student किसी Organization से जुड़ कर research कर सकता है या एजुएक्शनल इंस्टीट्यूट के साथ जुड़ कर ऊंचे क्लास के बच्चों को पढ़ा सकता है।

३. डॉक्टर ऑफ फिलासफी (PhD)

PhD, एमफिल से ऊंचे लेवल की पढ़ाई होती है। इसमें विद्यार्थी को अपने चुने हुए विषय में थ्योरी पढ़ना होता है और रिसर्च पूरी करनी होती है।

यह डिग्री कोर्स 3 से 6 साल का होता है। विद्यार्थी जितनी जल्दी रिसर्च को पूरा कर लेगा उसे उतनी ही जल्दी पीएचडी की डिग्री मिल जाएगी।

PhD की पढ़ाई के बाद उम्मीदवार को कॉलेज या यूनिवर्सिटी में बच्चों को पढ़ाने का मौका मिलता है। इसके अलावा अगर वो किसी जॉब के लिए अप्लाई करता है तो उसे वहां काफी अच्छी पोस्ट भी मिल जायेगी।

इसे भी पढ़े – कॉलेज प्रोफेसर कैसे बने ?

 

4. बैचलर ऑफ सोशल वर्क (B.S.W)

एमए के बाद भी ऐसे उम्मीदवार जो Social Worker बनना चाहते हैं वे B.S.W की पढ़ाई कर सकते हैं। यह पढ़ाई पूरे 3 साल की होती है। जिसमें Social Work के बारे में विशेष ज्ञान दिया जाता है।

Other Courses after MA (एम ए के बाद अन्य कोर्स)

ऊपर बताए गए मुख्य कोर्सेस के अलावा ऐसे बहुत से सर्टिफिकेट, डिप्लोमा और डिग्री कोर्स हैं जिसे M.A. के बाद किया जा सकता है –

एमए के बाद किए जाने वाले सर्टिफिकेट, डिप्लोमा और डिग्री कोर्सेज के नाम –

  • रेडियो जॉकी डिप्लोमा कोर्स (DRPM / DRJ )
  • होटल मैनेजमेंट
  • मास्टर ऑफ बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन (MBA)
  • बैचलर ऑफ लॉ (LLB)
  • पोस्ट ग्रेजुएशन डिप्लोमा इन मैनेजमेंट (PGDM)
  • ट्रैवल एंड टूरिज्म कोर्स
  • जर्नलिज्म कोर्स
  • इवेंट मैनेजमेंट कोर्स
  • इंटीरियर डिजाइनिंग कोर्स
  • फैशन डिजाइनिंग कोर्स

M.A के बाद government job preparation

अगर एमए के बाद आप बैंक में नौकरी करना चाहते हैं तो bank clerk या bank PO की तैयारी करें।

अगर आप रेलवे में नौकरी पाना चाहते हैं RRB group D, RRB NTPC, Assistant Station Master आदि की तैयारी कर सकते हैं।

एमए के बाद अगर भारत के डिफेंस सर्विस में जाना चाहते हैं तो NDA, CDS, CAPF, IAF आदि exams की तैयारी कर सकते हैं।

अगर आप IAS या PCS बनने का सपना देखते हैं तो MA के बाद सिविल सर्विसेज एग्जामिनेशन (CSE) की तैयारी कर सकते हैं।

इसी तरह से आप जिस भी फील्ड में सरकारी नौकरी करना चाहते हैं उससे जुड़े competitive exam की preparation शुरू करें।

MA ke baad kya kare
MA ke baad kya kare

M.A के बाद घर बैठ कर ऑनलाइन या कोचिंग के माध्यम से आप किसी भी government job की तैयारी शुरू कर सकते हैं।

Note: किसी भी competitive exam की preparation शुरू करने से पहले से यह जरूर जांच ले कि आप उस एग्जाम के लिए योग्य (eligible) हैं या नहीं।

 

M.A के बाद Career Opportunities / Jobs

एमए करने के बाद सरकारी और प्राइवेट दानों फील्ड में बहुत सी jobs हैं। लेकिन वो job आपको मिलेगी या नहीं यह इस बात पर निर्भर करता है कि आपने कहां से और किस सब्जेक्ट से M.A किया है।

आइए विस्तार से जानते हैं M.A के बाद best career opportunities के बारे में…

Subject Matter Expert after M.A

Subject Matter Expert या SME का काम होता है किसी भी विशेष टॉपिक या विषय से जुड़ी सामग्री को बनाना, या विकसित करना और निरीक्षण करना।

उदाहरण के लिए, एक Subject Matter Experts किसी भी परीक्षा या टेस्ट के लिए आवश्यक सामग्री का विकास कर सकता है।

इसके अलावा, अगर कोई किताब लिखी गई है तो उसमें बताए तथ्य पूरी तरह से सही हैं या नहीं, इसकी जांच करने का काम भी Subject Matter Experts का ही होता है।

एक Subject Matter Expert की सैलरी लगभग 4 लाख से 8 लाख रुपए(inr) प्रतिवर्ष होती है।

Career as a Translator

अगर आपको एक से ज्यादा भाषाएं और बोलियां आती हैं तो M.A करने के बाद आप Translator की नौकरी कर सकते हैं।

एक Translator की वार्षिक सैलरी लगभग 4 लाख से 6 लाख रुपए होती है।

Content Writer Job After MA

अगर आपको लिखने का शौख है तो आप एमए के बाद Content Writer के रूप में अपना करियर शुरू कर सकते हैं।

Content Writer का काम होता है किसी भी विशेष टॉपिक से जुड़ी जानकारी को इक्कठा करके लिखना।

अगर आप किसी कंपनी के साथ जुड़ कर Content Writer का काम करते हैं तो सालाना 2.5 लाख से 5 लाख रुपए कमा सकते हैं।

After M.A. Teacher Job

एमए की पढ़ाई करने के बाद आप प्राइवेट स्कूल और कोचिंग में बच्चों को पढ़ा सकते हैं।

स्कूल या कोचिंग में पढ़ा कर आप लगभग 3 लाख से 5 लाख रुपए सालाना कमा सकते हैं। इसके अलावा, आप खुद का कोचिंग सेंटर खोल कर और ज्यादा पैसे भी कमा सकते हैं।

After M.A Costumer Care Executive Job

अगर आपकी writing और communication skills अच्छी हैं और आपको कंप्यूटर की बेसिक नॉलेज है तो आप Costumer Care Executive की Job के लिये अप्लाई कर सकते हैं।

बहुत से कंपनियों में ऐसे उम्मीदवार जिनको इस काम का कोई एक्सपीरियंस नहीं है यानी fresher candidates के लिए Costumer Care Executive की jobs निकलती रहती हैं।

अलग-अलग कंपनियों में Costumer Care Executive की सैलरी अलग-अलग होती है।

बात अगर औसत सैलरी की करें, तो Costumer Care Executive की एक महीने में 15 हजार से 20 हजार रुपए तक तनख्वाह होती है।

Career as a Social Worker

भारत में बहुत से लोगों को यह मालूम ही नहीं है कि वे Social Worker बन कर भी अच्छे पैसे कमा सकते हैं।

Social Worker की पढ़ाई complete करके आप कई post पर job पा सकते हैं और 2.5 लाख से 5 लाख per year कमा सकते हैं।

अगर आपने Social Worker की पढ़ाई नहीं की है फिर भी किसी NGO के साथ जुड़ कर काम करके पैसे कमा सकते हैं।

Career as a Photographer

अगर आप फोटो खींचने में माहिर हैं तो एमए के बाद Photographer बनकर अपने करियर की शुरुआत कर सकते हैं।

अगर आप किसी कंपनी के लिए फोटो खींचने की जॉब करते हैं तो वहां लगभग 3.5 लाख से 8 लाख रुपए सालाना कमा सकते हैं। आपको मिलने वाली सैलरी पूरी तरह से आपके photography skills पर निर्भर करेगी।

अगर आप चाहते हैं कि Job मिलने में आसानी हो तो इसके लिए आप photography का कोई छोटा सा सर्टिफिकेट कोर्स भी कर सकते हैं।

सार्टिफिकेट मिलने के साथ ही आपकी photography skills भी और ज्यादा निखर जायेगी।

Other Jobs after MA

इन सबके अलावा, आप Myntra, फ्लिपकार्ट, अमेजन , टाटा, टीसीएस, रिलायंस, स्नैपडील आदि बड़ी-बड़ी कम्पनियों में निकलने वाली रिक्त पदों के लिए अप्लाई कर सकते हैं।

इन कंपनियों में सभी तरह के educational qualification वाले लोगों के लिए नौकरियां निकलती रहती हैं।

इन नौकरियों का पता लगाने के लिए आप इसके ऑफिशियल वेबसाइट या यूट्यूब का सहारा ले सकते हैं।

निष्कर्ष –  MA ke baad kya kare

M.A. के बाद किसी भी विद्यार्थी को अपने सुविधा अनुसार पढ़ाई, government job की तैयारी या private Job करनी चाहिए।

तो दोस्तों हम उम्मीद करते हैं कि हमने आपकी इस दुविधा “MA ke baad kya kare” का समाधान अपने इस आर्टिकल के जरिए कर दिया है।

लेकिन अगर अब भी आपके दिमाग में “MA ke baad kya kare” से जुड़ी कोई दुविधा बाकी रह गई हो तो कमेंट करें।

ज्यादा जानकारी के लिए आप हमारे होम पेज पर जा सकते है –

ज्यादा जानने के लिए – होम पेज पर जाएँ

Leave a Comment