NEET Exam क्या है – आसानी से सिलेक्शन लेने का तरीका -तैयारी कैसे करें

NEET exam क्या है – NEET Exam Full Information in Hindi-

हैलो दोस्तों, आपका स्वागत है। आज हम एक बहुत ही महत्वपूर्ण एग्जाम के बारे में जानकारी दे रहे हैं।

आज का टॉपिक है NEET exam क्या है।

इस आर्टिकल में हम आपको बताएंगे NEET exam क्या होता है? NEET ka full form kya hai? NEET exam ki fees कितनी होती है? NEET (UG) और NEET (PG) में अंतर, NEET exam कौन दे सकता है?

साथ में हम ये भी जानेंगे कि NEET exam syllabus, NEET exam pattern, NEET में पासिंग मार्क्स कितने होने चाहिए? NEET एग्जाम के बाद कौन से करियर ऑप्शन होते हैं और NEET exam की तैयारी कैसे करें।

हम आपको कुछ अच्छी किताबों की जानकारी भी देंगे ताकि आपको तैयारी में मदद मिल सके।

हम ये सब टॉपिक डीटेल में कवर करेंगे ताकि आपको एक ही आर्टिकल से पूरी जानकारी मिल जाए और आपको इधर-उधर भटकना न पड़े।

NEET exam क्या होता है?

NEET exam डॉक्टर बनने की पहली सीढ़ी है यानि अगर आपको डॉक्टर बनना है तो पहले NEET

Advertisement
का entrance एग्जाम क्लीयर करना होगा। इसके बाद ही आप किसी मेडिकल कॉलेज या मेडिकल स्टडी के लिए एलिजिबल हो सकते हैं।

पहले BAMS और BHMS में बारहवीं के नंबरों के आधार पर एडमिशन मिल जाता था। इसी तरह हर स्टेट अपने लेवल पर PMT का एग्जाम लेते थे। ये नेशनल लेवल पर भी होता था जिसे AIPMT कहा जाता था।

लेकिन अब इन सबको NEET exam ने रिप्लेस कर दिया है। हालांकि अब भी कुछ राज्यों में इनके लिए एग्जाम होते हैं। कुछ कॉलेज या यूनिवर्सिटीज भी अपनी तरफ से entrance exam कंडक्ट कराती हैं।

Neet exam kya hota hai
Neet exam kya hota hai

NEET ka full form kya hai?

NEET का फुल फार्म है National Eligibility Entrance Test. इसे हिंदी में राष्ट्रीय पात्रता प्रवेश परीक्षा कहा जाता है।

NEET exam की फीस कितनी होती है?

सामान्य वर्ग के उम्मीदवार के लिए नीट एग्जाम की फीस 1500 रुपए होती है। ओब्क औए EWS के लिए 1400, बाकी सभी आरक्षित वर्ग और PWD के लिए ये फीस 800 रुपए है। नीट का एग्जाम साल में एक बार होता है।

NEET exam कौन कंडक्ट कराता है?

NEET exam का आयोजन NTA यानि National Testing Agency के माध्यम से होता है।

NEET (UG) और NEET (PG) में अंतर

दोस्तों इससे पहले कि हम आगे बढ़ें आपको NEET (UG) और NEET (PG) में अंतर बता देते हैं ताकि अगर आपको कोई कन्फ्यूजन हो तो वो दूर हो जाए।

आप जो भी हायर स्टडी करते हैं उसमें ग्रेजुएशन और पोस्ट ग्रेजुएशन होता है। यही बात मेडिकल की पढ़ाई पर भी लागू होती है।

इसी आधार पर NEET exam को बाँटा गया है। जो बच्चे बारहवीं के बाद मेडिकल की पढ़ाई करना चाहते हैं वो NEET UG यानि undergraduate एग्जाम देते हैं और जो बच्चे पहले ही बैचलर कर चुके होते हैं वो आगे पढ़ाई करने के लिए NEET PG यानि postgraduate एग्जाम देते हैं।

हम इस आर्टिकल में NEET UG पर फोकस कर रहे हैं और आगे इसे NEET exam लिखेंगे।

NEET Exam Details in Hindi – Video

 

NEET exam कौन दे सकता है?

इसके लिए निम्न योग्यता होनी चाहिए

  • आपको PCB विषय के साथ किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से बारहवीं पास होना चाहिए
  • बारहवीं में कम से कम 50% नंबर होने चाहिए
  • जो लोग आरक्षित वर्ग से आते हैं उनके कम से कम 40% नंबर होने चाहिए
  • NEET exam के लिए उम्र सीमा 17-25 वर्ष होती है
  • जो लोग आरक्षित वर्ग से हैं उनको उम्र में अधिकतम 5 वर्ष तक की छूट दी जाती है
  • NEET exam देने के लिए उम्मीदवार के पास आधार कार्ड होना जरूरी है

नीट एग्जाम का सिलेबस क्या है ?

NEET exam के syllabus में Physics, Chemistry और Biology पढ़नी होती है।

Biology में Zoology और Botany दोनों ही आते हैं। आपको एक बात का खास ख्याल रखना है कि अगर आपको पहली बार में ही नीट एग्जाम में अच्छी रैंक लानी है तो आपको अच्छी तरह से पढाई करनी होगी |

अपने टेक्स्टबुक तो पढने ही होंगे उसके अलावा अपनी तैयारी को और अच्छा करने के लिए बहुत सी competitive  बुक्स भी आती है जिसके द्वारा आप अपनी तैयारी और अच्छी कर सकते है |

हमने आपकी अच्छी के लिए कुछ बुक्स के बारे में आगे बताया है तो आप इस आर्टिकल को पूरा जरुर पढ़िए –

नीट का एग्जाम पैटर्न क्या होता है ?•

  1. NEET exam में सबसे महत्वपूर्ण बात ये है कि आप इसे हिंदी और अंग्रेजी के अलावा 9 क्षेत्रीय भाषाओं में भी दे सकते हैं, इसके लिए ये अनिवार्य है कि आप जिस भाषा से एग्जाम दें उसी स्टेट के सेंटर का चयन करें यानि कन्नड़ भाषा के लिए कर्नाटक चुनना होगा
  2. ये एग्जाम ऑफलाइन लिया जाता है
  3. इसमें आपको 180 प्रश्न हल करने होते हैं
  4. Physics, Chemistry, Zoology और Botany के 45-45 प्रश्न पूछे जाते हैं
  5. एग्जाम पूरा करने के लिए तीन घंटे मिलते हैं यानि मान सकते हैं कि हर सवाल के लिए एक मिनट दिया जाता है
  6. अगर आपका जवाब सही हुआ तो 4 नंबर मिलेंगे
  7. अगर जवाब गलत हुआ तो 1 नंबर कट जाता है

नीट  में पासिंग मार्क्स कितने होने चाहिए?

दोस्तों NEET exam के पैटर्न से आपको ये तो समझ आ गया कि ये कुल 720 नंबर का पेपर होता है। इसमें एक परसेंटाइल सिस्टम होता है। अब हम आपको ये बताते हैं कि नीट क्वालिफाई करने के लिए कितने नंबर चाहिए।

जनरल केटेगरी के लिए 50 परसेंटाइल, जनरल (PWD) के लिए 45 परसेंटाइल, बाकी सभी आरक्षित और इनमें आने वाले PWD उम्मीदवारों के लिए 40 परसेंटाइल

अगर ये आपको थोड़ा मुश्किल लगा हो तो  इसे थोड़ी आसान भाषा में समझ लेते हैं।

जनरल केटेगरी के लिए आपको कम से कम 550-600 नंबर का लक्ष्य रखना चाहिए। ताकि आप एक अच्छे मेडिकल कॉलेज में एडमिशन ले सकें
OBC कैटेगरी के लिए आपको 500-550 नंबर का लक्ष्य रखना चाहिए और SC/ST कैटेगरी के लिए आपको कम से कम 450-500 नंबर तक का लक्ष्य रखना चाहिए

हालांकि ये कोई नियम नहीं है। हर बार के कट ऑफ अलग हो सकते हैं। लेकिन हम पिछले सालों के ट्रेंड को देखकर अंदाजा जरूर लगा सकते हैं।

वैसे भी आज के दौर के तगड़े कॉम्पिटीशन को देखते हुए आपको सिर्फ सलेक्शन को ध्यान में रखकर तैयारी करनी चाहिए ताकि आप ज्यादा से ज्यादा नंबर ला सकें और अपना एडमिशन पक्का कर सकें। क्योंकि जितनी अच्छी और मजबूती से आप तैयारी करेंगे उतने ही अच्छे नंबर ले आएंगे।

नीट एग्जाम के बाद कौन से करियर ऑप्शन होते हैं ?

जब आप नीट एग्जाम क्वालीफाई कर लेते हैं तब आप अपने नंबरों के हिसाब से कॉलेज और कोर्स चुन सकते हैं यानि जितनी अच्छी आपकी रैंक होगी उतने ज्यादा चांस होंगे कि आपको अच्छे से अच्छा और मनपसंद कॉलेज मिल जाए।

अब हर तरह की मेडिकल कि पढ़ाई के लिए NEET exam जरूरी हो गया है। यानि MBBS, BAMS, BHMS, BDS, BUMS, BVSc and AH इनमें से कोई भी पढ़ाई करना चाहते हैं तो आपको NEET qualify करना होगा। यानि NEET के बाद आपके पास इतने सारे विकल्प खुल जाते हैं।

NEET exam की तैयारी कैसे करें ?

किसी भी एग्जाम की तैयारी के लिए सबसे जरूरी बात होती है कि आप कितनी लगन और धैर्य के साथ खुद को तैयार करते हैं।

मान लीजिए आपका दिमाग पढ़ाई में बहुत तेज है पर इस बात के ओवर काॅन्फिडेंस में आप तैयारी में ढील बरतें तो भला सफलता कैसे मिल पाएगी और वहीँ दूसरी ओर एक सामान्य स्टूडेंट जो रोज मेहनत से पढ़ेगा उसको सफलता मिल जाएगी।

ज्यादातर स्टूडेंट्स कोचिंग करते हैं लेकिन वहाँ भी आपको सिर्फ पढ़ाया जा सकता है। याद करना और मेहनत करना आपका ही काम है।  यही वजह है कि ऐसे स्टूडेंट्स भी NEET क्वालिफाई कर लेते हैं जो self study करते हैं।

इसलिए अगर आप एक बार में ही नीट एग्जाम क्वालीफाई करना चाहते हैं तो कमर कस लीजिए। हम भी आपको कुछ छोटे-छोटे टिप्स देंगे जो आपकी बहुत मदद करेंगे।

ये एग्जाम ऑल इंडिया लेवल पर होता है। अगर आपने थोड़ी सी भी लापरवाही की तो भविष्य को खराब करने वाली बात होगी।

1. आपको सबसे पहले ये पता करना होगा कि NEET exam ka syllabus क्या है। क्योंकि ये तैयारी का सबसे पहला और जरूरी कदम है। जब आपको ये सही तरह से पता नहीं होगा कि क्या पढ़ना है तो भला आपकी तैयारी पूरी कैसे होगी। सिलेबस की जानकारी आपको NTA की वेबसाइट और app पर मिल जाएगी।

2. अब आप एक टाइम टेबल बना लें। टाइम टेबल ऐसा बनाइए जो आप फॉलो कर सकें। मान लीजिए आपने सोचा कि दस घंटे पढ़ेंगे पर आपने कभी इतनी देर पढ़ाई न की हो तो टाइम टेबल बिगड़ जाएगा।

3. जो चैप्टर या टॉपिक आपको आसान लगे उसे पहले कवर करें। इस तरह आपके पास मुश्किल टॉपिक के लिए ज्यादा समय रहेगा।

4. पढ़ते हुए टीवी, सोशल मीडिया जैसी चीजों में न भटकें। इंटरनेट से पढ़ाई आज की जरूरत है। लेकिन संयम भी उतना ही जरूरी है।

5. पढ़ाई के लिए एक ही सोर्स या किताब पर निर्भर न रहें।

6. पुराने प्रश्नपत्र जरूर हल करें।

7. आपने जितना सिलेबस कवर कर लिया है उसका रिवीजन करते रहें।

8. पढ़ाई के बीच आराम और relaxation के लिए समय निकालें। ताकि मानसिक और शारीरिक थकान दूर हो सके। अपने आहार, नींद और स्वास्थ्य का ध्यान रखें।

Neet exam kya hai puri jankari
Neet exam kya hai puri jankari

नीट की तैयारी के लिए best book –

हम सबकी लाइफ में किताबो का एक अहम स्थान होता है और अगर बात किसी परीक्षा को पास करने की हो तब तो किताबो से अच्छा कोई दोस्त नही हो सकता |

अब हम आपको कुछ किताबों की जानकारी दे रहे हैं जो आपके लिए बहुत फायदेमंद हो सकती हैं। इससे आपकी तैयारी भी बेहतर ढंग से होगी और अच्छे नंबर भी आ जाएंगे। लेकिन आपको अपनी तरफ से तैयारी में कोई कसर नहीं छोड़नी है।

सबसे पहले नाम आता है NCERT books का।

आप Physics, Chemistry, Biology हर सब्जेक्ट के लिए इन किताबों को जरूर पढ़ें। क्योंकि NCERT का curriculum बहुत अच्छा होता है। इसमें से काफी सवाल भी आते हैं। लेकिन इनमें भी theoritical part ज्यादा रहता है।

अब हम कुछ और किताबें देखते हैं जो किसी कॉम्पिटीशन के हिसाब से theory ही नहीं बल्कि question answer के फार्म में भी आपकी तैयारी करवाती हैं। इन किताबों का एक फायदा ये भी होता है कि इसमें आपको मॉक टेस्ट और पुराने क्वश्चन पेपर भी मिल जाते हैं।

ऐसी किताबों में answers को अच्छी तरह से समझाया भी जाता है ताकि पढ़ने वाले को कॉन्सेप्ट समझ आ जाए और किसी तरह का डाउट न रहे।

NEET की तैयारी के लिए Biology books

इसमें आपको Botany और Zoology पढ़नी होती है। कुछ किताबें दोनों सब्जेक्ट कवर करती हैं।

पहला नाम है Universal Publication की किताब errorless का और NCERT Fingertips कि मदद क्ले सकते सकते है –

जहाँ पर Errorless में आपको क्वेश्चन प्रक्टिस के लिए बहुत सारे मटेरियल मील जाएँगे वहीँ पर fingertips में आपको NCERT के सारे कांसेप्ट आसन भाषा में समझने को मिलेंगे –

 

NEET की तैयारी के लिए Chemistry books

इसमें आपको organic, inorganic और physical chemistry पढ़नी होती है।

आर्गेनिक केमिस्ट्री के लिए आप MS Chauhan की बुक ले सकते है –

फिजिकल केमिस्ट्री के लिए N Awasthi बहुत ही अच्छी  किताब है या फिर आप चाहे तो Universal Errorless ले सकते है जिसमे अस्प्को थ्योरी और प्रक्टिस के लिए बहुत सारे मटेरियल मील जाएगे –

  • Physical केमिस्ट्री N अवस्थी – BUY Here
  • आर्गेनिक केमिस्ट्री MS Chauhan – BUY Here
  • Chemistry Universal Errorless – BUY Here

NEET की तैयारी के लिए Physics books –

फिजिक्स के लिए हम आपको कुछ ऐसे बुक्स के नाम बताने जा रहे है जिनके बिना सायद आपकी तैयारी अधूरी रह जाए –

दोस्तों फिजिक्स के लिए HC Verma भुत ही जबर्दस्त किताब है उसके लावा DC Pandey आपकी क्वेश्चन प्रक्टिस के लिए बहुत मददगार होगी और फिजिक्स केर लिए भी Errorless की मदद ले सकते है –

दोस्तों इस बात को समझना जरूरी है कि किताबों का ढेर लगाकर कुछ भी नहीं होगा। भले ही आप कम किताबें पढ़ें पर जो कुछ भी पढ़ रहे हैं उसे कंठस्थ कर लें। ताकि एग्जाम में आप कुछ भूलें न।

कई बार हम बहुत ज्यादा किताबे पढने के चक्कर में कुछ भी अच्छी तरह से पढ़ ही नहीं पाते और एग्जाम तक भी कोई कॉन्सेप्ट क्लीयर
नहीं होता।

आप पहले एक टॉपिक चुनिए। उसे एक किताब से तैयार कीजिए। उसके बाद दूसरी किताब से उस टॉपिक को पढ़िए ताकि अगर उससे related कोई सवाल छूट गया हो तो कवर हो जाए। इस तरह आपका रिवीजन भी हो जाता है।

निष्कर्ष – NEET exam क्या होता है?

दोस्तों आज हमने आपको NEET exam के बारे में बताया। जैसे कि NEET exam क्या होता है? NEET ka full form kya hai? NEET exam ki fees कितनी होती है? NEET (UG) और NEET (PG) में अंतर, NEET exam कौन दे सकता है? NEET exam syllabus, NEET exam pattern, NEET में पासिंग मार्क्स कितने होने चाहिए? NEET एग्जाम के बाद कौन से करियर ऑप्शन होते हैं और NEET exam की तैयारी कैसे करें।

हमने आपकी आसानी के लिए कुछ किताबों के लिंक भी दिए हैं। जो आपकी पढ़ाई में काम आ सकती हैं। हमने अपनी तरफ से आपको पूरी जानकारी दी है।

फिर भी आपको लगता है कि कोई सवाल रह गया है तो कमेंट सेक्शन में जरूर बताएं। अगर और किसी टॉपिक पर जानकारी चाहते हों तो भी लिखें।
आपको ये आर्टिकल पसंद आए तो इसे ज्यादा से ज्यादा शेयर करें और हमें सब्सक्राइब करें।

ज्यादा जानकारी के लिए हमारे होम पेज पर जाएँ – होम पेज 

Article by – Nidhi Neer

Leave a Comment