AYUSH ARENA

GK Quiz Competition

BHMS Course fees 2022 | BHMS Course full details in Hindi | BHMS कोर्स क्या है कैसे करें पूरी जानकारी

BHMS Course full details in Hindi  -BHMS कोर्स कैसे करें ? पूरी जानकारी हिंदी में – (What is BHMS course in Hindi?)

दोस्तों! यदि आप BHMS कोर्स के जरिए अपना बेस्ट करियर ऑप्शन चुनना चाहते हैं और इसकी मदद से अपना करियर बनाना चाहते हैं, तो यूं समझिए कि BHMS कोर्स के बारे में पूरी जानकारी प्राप्त करने के लिए अब आपको कहीं और जाने की बिल्कुल भी जरूरत नहीं है।

इस आर्टिकल “BHMS Course full details in Hindi “के माध्यम से हमने BHMS कोर्स (BHMS course) के बारे में कई महत्वपूर्ण बातों जैसे BHMS course kya hai, BHMS Full Form, BHMS course ke fayde, BHMS course mein best career option kya hai,

BHMS course ke liye admission kaise len, BHMS course karne ke bad salary kitni hai तक की सभी जानकारियों का जिक्र किया है।

इस आर्टिकल में हमने BHMS course in Hindi से संबंधित बहुत ही महत्वपूर्ण जानकारियाँ उपलब्ध करवाई है, जो
निम्नलिखित हैं –

  1. BHMS कोर्स क्या है? (What is BHMS course in Hindi?)
  2. BHMS Full Form – BHMS Course full details in Hindi
  3. BHMS की कोर्स को करने के लिए शैक्षिक योग्यता कितनी होनी चाहिए?
  4. BHMS की कोर्स को करने के लिए विद्यार्थी की आयु सीमा कितनी होनी चाहिए?
  5. Advertisement
  6. BHMS की कोर्स करने के लिए प्रवेश प्रक्रिया क्या है?
  7. BHMS course के सब्जेक्ट क्या क्या होते है ?
  8. BHMS में कौन-कौन से कोर्स आते हैं ?
  9. BHMS की कोर्स करने के बाद करियर ऑप्शन कैसे चुने?
  10. BHMS की कोर्स करने के बाद सैलरी कितनी होती है?
  11. BHMS Course करने के फायदे क्या हैं ?

 

BHMS कोर्स क्या है? (What is BHMS course in Hindi?- BHMS Course full details in Hindi )

सबसे पहले हमें यह जानना है कि BHMS का full form क्या है?

BHMS का full form

BHMS Full Form –  बैचलर ऑफ होम्योपैथिक मेडिसिन एंड सर्जरी (Bachelor of Homeopathic medicine and surgery) है।

BHMS के कोर्स पूरी दुनिया में प्रसिद्ध है।  यह कोर्स करने के बाद आप एक होम्योपैथिक डॉक्टर बन सकते हैं या फिर आप किसी हॉस्पिटल में जॉब कर सकते हैं और आपके नाम के आगे डॉक्टर की डिग्री लगाई जाती है।

BHMS कोर्स से आप थियोरेटिकल और प्रैक्टिकल रूप से डॉक्टर बन जाते हैं। bachelor of homeopathic and surgery, होम्योपैथिक चिकित्सा की एक समग्र प्रणाली है। जिसमे मरीजों को टेबलेट के रूप में दिए गए अत्यधिक सरल पदार्थों के साथ इलाज करने पर आधारित है।

यह चिकित्सा की प्राकृतिक प्रणाली का अनुसरण करता है।

BHMS कोर्स हमारे देश हैं होम्योपैथिक डॉक्टर बनने के लिए बहुत ज्यादा प्रचलित है। आपको बता दे की यह कोर्स करीब साढ़े 4 साल की होती है और 1 साल की इंटर्नशिप होती है।

BHMS यानी बैचलर ऑफ होम्योपैथिक मेडिसिन एंड सर्जरी एक undergraduate course (अंडरग्रेजुएट कोर्स) हैं।

BHMS की कोर्स को करने के लिए शैक्षिक योग्यता (Eligibility for BHMS)

यदि आप bachelor of homeopathic and surgery की कोर्स में admission लेना चाहते है तो आपको इसकी न्यूनतम क्राइटेरिया की योग्यता प्रमाणित करनी होती है।

  • BHMS कोर्स को करने के लिए शैक्षिक योग्यता कम से कम 12वीं पास होनी चाहिए
  • कक्षा 12वीं में फिजिक्स, केमिस्ट्री और बायोलॉजी सब्जेक्ट होना चाहिए |
  • क्लास 12th में 50% मार्क्स जरूरी है |

BHMS कोर्स को करने के लिए आयु सीमा कितनी होनी चाहिए? (Age limit for BHMS Course)

BHMS कोर्स के लिए न्यूनतम आयु सीमा कम से कम 17 साल तक होनी चाहिए। साथ ही साथ इसकी अधिकतम सीमा 17 वर्ष से भी आगे तक होती है जहां आप उम्र के शैक्षणिक पड़ाव में BHMS की पढ़ाई कर सकते हैं।

BHMS कोर्स पूरी करने के बाद आप ग्रेजुएट कहलाते हैं। BHMS कोर्स में वही विषय पढ़ाई जाती है जो होम्योपैथी सेक्टर से जुड़ी होती है और जो आगे जाकर आपके प्रोफेशन में काम आती हो और आप मरीजों का इलाज आसानी से कर सकते है।

BHMS में कौन-कौन से कोर्स आते हैं ? BHMS Course in Hindi

बैचलर ऑफ होम्योपैथिक एंड सर्जरी के ढेर सारे कोर्स होते हैं और बहुत सारे भाग होते हैं जिसमें आप पढ़ाई कर सफल डॉक्टर बन सकते हैं।

  • होम्योपैथिक फार्मेसी (Homeopathic Pharmacy)
  • पीडियाट्रिक्स (Paediatrics)
  • साईकाईट्री (Psychiatry)
  • स्किन स्पेशलिस्ट (Skin specialist)
  • इनफर्टिलिटी एंड सेक्स स्पेशलिस्ट (Infertility and Sex specialist) जैसे कोर्स उपलब्ध है जो आपके भविष्य को उज्ज्वल बना सकते हैं।

BHMS की कोर्स करने के लिए प्रवेश प्रक्रिया क्या है? ( Admission Process for BHMS course in Hindi?)

होम्योपैथिक चिकित्सा में एडमिशन लेने के लिए आपको एंट्रेंस एग्जाम देना पड़ता है और अच्छे से अच्छे मार्क्स आने पर ही आपको अच्छे कॉलेज में एडमिशन मिल सकता है।

BHMS Course kya hai kaise karen
BHMS Course kya hai kaise karen

BHMS Course full details in HindiBHMS कोर्स की योग्यता पूरा करते ही आप एडमिशन प्रोसेस के लिए आगे बढ़ सकते हैं।

आप 12वीं में फिजिक्स, केमेस्ट्री, बायोलॉजी जैसे विषयों मेरे पास करने के साथ ही आप बड़े-बड़े इंस्टिट्यूट में दाखिला ले सकते हैं और तो और प्रचलित institute में एडमिशन के लिए entrance test भी लिए जाते हैं |

अब तो बहुत से कॉलेज में नीट के द्वारा ही एडमिशन होता है ?

इसे भी पढ़े – नीट क्या है , नीट कि पासिंग मार्क्स जानें |

आपको डॉक्टर बनने की लिए सबसे पहले दसवीं की परीक्षा अच्छे नंबरों से उत्तीर्ण करनी होती है। इसके बाद ही आप 12वीं की कक्षा में physics chemistry biology and English में अच्छे अंक अर्जित करने होते हैं।

साथ ही साथ आपको 12th कि 2 साल की पढ़ाई पूरी तरीके से ध्यान से करनी होती है क्योंकि BHMS के कोर्स में एडमिशन लेने से पहले एंट्रेंस एग्जाम में इसी से संबंधित सवाल पूछे जाते हैं |

इसके अलावा अलग-अलग इंस्टिट्यूट की अलग-अलग एंट्रेंस टेस्ट होती है। वैसे तो कई colleges और universities केवल आपके अंक को देखकर ही admission दे देते है।

इसके बाद आपका डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन किया जाता है इसके बाद ही आप यूनिवर्सिटी में दाखिला ले सकते हैं।

BHMS Course की फीस – BHMS Course full details in Hindi

अगर आप किसी सरकारी कॉलेज या यूनिवर्सिटी से इस कोर्स को करते है तो आपकी फीस काफी कम होगी |

BHMS कोर्स की फीस लगभग 10 हज़ार से 20 हज़ार ही होगी एक साल की,

वहीँ अगर आप प्राइवेट कॉलेज से करते है तो वहां BHMS कोर्स की फीस लगभग 50 हजाए से 1 लाख तक भी हो सकती है |

नोट – ये फीस कॉलेज के अनुसार कम या ज्यादा हो सकती है |

BHMS Course के सब्जेक्ट क्या क्या होते है – (Subjects of BHMS course in Hindi?)

BHMS के कोर्स में आपको वो ही सब्जेक्ट को पढ़ाए जाते हैं जो आपके होम्योपैथिक सेक्टर से संबंधित होते हैं। जिसमें आपको गहन अध्ययन करवाया जाता है।

इसमें आपको बहुत से सब्जेक्ट पढ़ाए जाते है जैसे :-

  • मैटेरिया मेडिका (Materia Medica)
  • ओरगैनन ऑफ मेडिसिन (Organon of Medicine)
  • एनाटोमी (Anatomy)
  • फिजियोलॉजी और बायोकेमिस्ट्री (Physiology and Biochemistry)
  • रिपार्टरी (Repertory)
  • कम्युनिटी मेडिसिन (Community Medicine)

जैसे और भी बहुत सारे विषयों को पढ़ाया जाता है।

BHMS की कोर्स करने के बाद करियर ऑप्शन कैसे चुने? ( Career Option after BHMS Course in Hindi?)

जैसा कि आपको बताया जा चुका है की मेडिकल फील्ड में आयुर्वेदिक, एलोपैथिक के बाद तीसरी सबसे बड़ी फील्ड होम्योपैथिक की है।

इससे आप अनुमान लगा सकते हैं कि होम्योपैथिक में डॉक्टर का भविष्य कैसा होगा।

आपको बता दे की होम्योपैथिक दवाई का कोई दुष्प्रभाव नहीं होता है जो लोगों को इस पर विश्वास करने के लिए प्रेरित करता है और तो
और या किसी भी रोग को उसके मूल से मिटाने में सक्षम होता है लेकिन इसकी प्रक्रिया बहुत लंबे समय तक चलती है।

इसकी दवाई बहुत ही सस्ते कीमतों पर उपलब्ध होती है जो सामान्य जन के लिए बहुत आसान है।

यदि आप अपना करियर मेडिकल साइंस के बैचलर ऑफ होम्योपैथिक एंड सर्जरी में बनाना चाहते हैं तो आपके लिए यह आर्टिकल बहुत
ज्यादा फायदेमंद साबित हो सकता है इसकी मदद से आप अपनी जानकारी को बढ़ा सकते हैं और तो और आप BHMS कोर्स की पूरी कड़ियों को एक साथ देख सकते हैं इसके लिए आपको कहीं और जाने की जरूरत नहीं है। इसकी मदद से
आप होम्योपैथिक डॉक्टर बन सकते है।

 

जो लोग एलोपैथिक दवाइयों का प्रयोग करके भी अपने बीमारी को ठीक नहीं कर पाए वह लोग होम्योपैथिक दवाइयों की ओर अग्रसर होते हैं क्योंकि इसमें खर्च बहुत कम आता है जिससे किसी के लिए भी आर्थिक समस्या उत्पन्न नहीं होती है।

BHMS के कोर्स पूरा करने के उपरांत आप सिर्फ अपने देश में ही नहीं बल्कि विदेशों में भी अपना करियर बना सकते हैं और वैसे तो प्रोफेशनल कोर्स की काफी मांग होती है जिसमें सबसे अच्छा ऑप्शन मेडिकल फील्ड का होम्योपैथिक सेक्टर भी हो सकता है।

BHMS कोर्स को पूरा करने के उपरांत पद की बात करें तो आप इसमें डॉक्टर, कंसल्टेंट, लेक्चरर, साइंटिस्ट, थेरेपिस्टफार्मिस्ट और मेडिकल असिस्टेंट जैसे पोस्ट में आप अपना अच्छा खासा प्रोफेशनल करियर बना सकते हैं |

• व्यावसायिक क्षेत्र (Employment Area)

  • क्लिनिक (Clinic)
  • चैरिटेबल इंस्टीट्यूशन (चैरिटेबल इंटीट्यूशन)
  • कंसल्टेंसी (Consultancy)
  • होम्योपैथिक दवाई खाना (Homeopathic Medicine Store)
  • हॉस्पिटल्स (Hospitals)
  • मेडिकल कॉलेजेस (Medical Colleges)
  • फार्मेसी (Pharmacy)
  • रिसर्च इंस्टिट्यूट (Research Institute)
  • स्टेट डिस्पेंसरीज (State dispensaries)
  • ट्रेनिंग इंस्टीट्यूट्स (Training Institutes)

 

BHMS की कोर्स करने के बाद सैलरी कितनी होती है? (Salary after  BHMS course in Hindi?)

आज के समय में मेडिकल फील्ड से अधिक कमाई किसी भी फील्ड में नहीं है क्योंकि आज के रहन-सहन से जीने वाले प्रत्येक लोग अपने जीवन काल में बहुत बार बीमार पड़ते हैं और उन्हें डॉक्टरों की आवश्यकता होती है |

यह डॉक्टर उनकी मदद कर अपनी अच्छी खासी कमाई करते हैं। आपको बता देगी भारत में 70% to 80% बिजनेस मेडिकल सेक्टर में ही होता है।

BHMS Course full details in Hindi
BHMS Course full details in Hindi

बीएचएमएस कोर्स को पूरा करने के पश्चात यह आप पर निर्भर करता है कि आप को कितनी सैलरी मिलेगी

आप किस प्रोफेशन को चुनते है और आपकी सैलरी आपके अनुभव पर भी निर्भर करता है कि आप कितने अनुभवी हैं और कितनी सरल तरीके से अपने मरीजों को ठीक कर सकते हैं।

यदि हम एक सरकारी डॉक्टर की बात करें तो आपकी सैलरी अनुमानतः 25000 से 35000 हो सकती है।

अगर आप किसी और जो प्रोफेशन को चुनते हैं तो उसके क्राइटेरिया और अनुभव के अनुसार आप सैलरी ले सकते हैं।

लेकिन यह तो स्पष्ट है कि आप बीएचएमएस  कोर्स करने के पश्चात आप ₹20000 शुरुआती सैलरी तो कमाएंगे ही।

BHMS Course करने के फायदे क्या हैं? (What are the advantages of BHMS course in Hindi?)

Bachelor of homeopathic medicine and surgery (BHMS) के कोर्स को करने के बहुत सारे फायदे हैं।

दरअसल कोई भी कोर्स खराब नहीं होता तथा सभी तरह के कोर्स आपके जीवन को सफल बनाने के लिए ही होते हैं।

प्रत्येक कोर्स को करने में सिर्फ आपकी मेहनत की ही आवश्यकता होती है जो आप को सफल बनाता है।

  • BHMS कोर्स को करने के बाद आप मेडिकल की तीसरी स्तर होम्योपैथिक के अच्छे जानकार हो सकते हैं और आप मरीजों का इलाज भी कर सकते हैं।
  • BHMS कोर्स करने के बाद आप एक अंडर ग्रेजुएट कहलाते हैं।
  • यह एक साइंस की ग्रेजुएशन डिग्री होती है जिसे करने के बाद आप होम्योपैथिक डॉक्टर की सभी तरह से पूरी जानकारी रखते हैं।
  • BHMS के कोर्स करने के बाद आप विदेशों में भी आसानी से नौकरी कर सकते है। इसलिए तो यह बहुत प्रचलित सेक्टर है।
  • Bachelor Of Homeopathic And Medicine के कोर्स को करने बाद आप अपना मेडिकल क्लिनिक भी खोल सकते है।

निष्कर्ष(Conclusion) – BHMS Course full details in Hindi

इस आर्टिकल में हमारी तरफ से सारी जानकारी जैसे BHMS course Kya hota hai, BHMS full form,  BHMS course eligibility kya hai, BHMS course ke bad best career option kaise chune, BHMS course ke bad salary kitni hai एकत्रित करने की कोशिश की गई है जो आपके लिए फायदेमंद साबित होगी|

मुझे पूरी उम्मीद है की आप इस आर्टिकल “BHMS Course full details in Hindi ” के माध्यम से बीएचएमएस कोर्स को पूरी तरह से जान सकते हैं साथ ही साथ इस के सभी क्राइटेरिया और अपनी क्षमता को भी पहचान पाएंगे।

यदि आप BHMS कोर्स के बारे में पूरी जानकारी प्राप्त कर चुके हैं तो इसे अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें ताकि वह भी इससे अपने बेस्ट करियर ऑप्शन चुन सकें।

इस आर्टिकल के अंतर्गत यदि आप किसी भी प्रकार के सुझाव देना चाहते हैं तो हमें कमेंट बॉक्स में कमेंट करके जरूर बताएं।

आप हमारे होम पेज पर जाएँ वहां आपको और भी महतवपूर्ण जानकारी मिलेगी

होम पेज पर जाएँ – यहाँ क्लिक करें 

Leave a Comment