BHM Course kya hai – कोर्से, फीस, सैलरी, योग्यता, बेस्ट कॉलेज की जानकारी

BHM Course kya hai – इस आर्टिकल में आपको BHM कोर्स की A to Z जानकारी मिलेगी , आप इस आर्टिकल में जानेंगे कि –

BHM kya hai, full form, admission process, best colleges, बीएचएम के बाद जॉब और सैलरी आदि से जुड़ी जानकारी इस आर्टिकल में विस्तार में दी गई है। इसलिए अगर आप अपना करियर होटल मैनेजमेंट में बनाना चाहते हैं तो आर्टिकल को आगे ध्यान से पढ़ें।

BHM Course details in Hindi – BHM Course kya hota hai

BHM full form

BHM का full form होता है “Bachelor Of Hotel Management”.

बीएचएम (BHM) को हिंदी में “होटल प्रबंधन में स्नातक” कहते हैं।

BHM Course kya hota hai

जैसा कि नाम से ही पता चल रहा, Bachelor Of Hotel Management (BHM) होटल मैनेजमेंट में ग्रेजुएशन डिग्री की पढ़ाई होती है।

बीएचएम (BHM) की पढ़ाई में होटल के कामकाज से जुड़े सभी पहलुओं का management (प्रबंधन) करना सिखाया जाता है।

आसान शब्दों में, बीएचएम में होटल के प्रबंधन, मार्केटिंग, हाउसकीपिंग, रख-रखाव, खानपान आदि चीजों के बारे में सिखाया जाता है।

बहुत से लोगों को hotel management और hospitality management दोनों एक ही लगता है जबकि इसमें फर्क होता है।

Hotel management VS Hospitality management के बारे में हमने आर्टिकल में नीचे FAQs के सेक्शन में बताया है  और ऐसी ही कई महत्वपूर्ण जानकारियां आपसे ना छूटे इसलिए इस आर्टिकल बिलकुल अंत तक पढें।

बीएचएम कोर्स कितने साल का होता है?

ज्यादातर कॉलेज और यूनिवर्सिटी में BHM course duration 3 सालों का होता है। जबकि कुछ कॉलेजों (जैसे – Welcomgroup Graduate School) में यह कोर्स 4 सालों का होता हैं।

बीएचएम कोर्स में एडमिशन के लिए योग्यता (BHM course eligibility & qualifications)

Advertisement
BHM Course kya hai
BHM Course kya hai

लगभग सभी कॉलेजों में बीएचएम कोर्स का eligibility criteria अलग-अलग होता है।

यहां हमने  वही बताया है जो कि ज्यादातर कॉलेजों में BHM में एडमिशन के लिए eligibility criteria है।

बीएचएम डिग्री में एडमिशन पाने के लिए उम्मीदवार को कम से कम 12 वीं पास होना चाहिए।

कुछ कॉलेजों में 12वीं में विद्यार्थी के 50% से 60% अंकों की मांग की जाती है।

जबकि कुछ कॉलेजों में विद्यार्थी के 12 वीं में एक विषय अंग्रेजी होना चाहिए, इसकी भी मांग की जाती है।

अलग-अलग caste के हिसाब से, कुछ कॉलेजों में 22 से 25 साल की maximum age limit भी रखी गई है।

इसे भी पढ़े – ग्रेजुएशन में कितने सब्जेक्ट होते है ?

BHM admission process in Hindi

अलग-अलग कॉलेजों में BHM admission process थोड़ा-बहुत अलग-अलग होता है। जैसे –

1. Admission via Entrance exam

कुछ कॉलेजों में BHM degree में एडमिशन entrance exam के जरिए लिया जाता है।

कुछ कॉलेजों में बीएचएम एंट्रेंस एग्जाम क्वालीफाई करने के बाद विद्यार्थियों को group discussion या काउंसलिंग के लिए बुलाया जाता है।

Group discussion में एक साथ कई विद्यार्थियों को बैठा कर, उन्हें कोई टॉपिक दिया जाता है। उस टॉपिक पर सभी को अपना मत रखना होता। ग्रुप डिस्कशन राउंड मुख्यता विद्यार्थी के पर्सनालिटी और कम्युनिकेशन स्किल्स की जांच के लिए होता है।

काउंसलिंग में मुख्यतः डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन की प्रक्रिया होती है, जिसमें विद्यार्थी को अपने सभी original documents कॉलेज में दिखाने होते हैं।

2. Admission without entrance exam

जबकि कुछ कॉलेजों में BHM course में एडमिशन मेरिट के आधार पर (without entrance exam) हो जाता है।

विद्यार्थी अपनी सुविधा अनुसार, प्रवेश परीक्षा या बिना प्रवेश परीक्षा वाले कॉलेजों में एडमिशन ले सकते हैं।

सीधे मेरिट के आधार पर एडमिशन देने वाले कॉलेजों की फीस, एंट्रेंस एग्जाम वाले कॉलेजों की फीस की तुलना में अक्सर कुछ ज्यादा होती है।

3. Lateral Entry Admission

जिन विद्यार्थियों ने होटल मैनेजमेंट में पहले से कोई डिप्लोमा कोर्स कर रखा हो, वे BHM में सीधे 2nd year में एडमिशन ले सकते हैं। ऐसे एडमिशन को Lateral Entry Admission कहते हैं।

BHM Course information in Hindi _ Video

BHM entrance exam

होटल प्रबंधन के बैचलर कोर्स (BHM) में admission के लिए कई राज्य और कॉलेज या इंस्टीट्यूट के स्तर पर एंट्रेंस एग्जाम होते हैं।

ज्यादातर कॉलेज में BHM course के entrance exam का संक्षिप्त syllabus इस प्रकार है –

  • Hospitality Sector Questions
  • Logical Reasoning
  • Reading Comprehension
  • Numerical Ability
  • General Awareness

BHM डिग्री में एडमिशन पाने के लिए होने वाले एग्जाम में से कुछ प्रमुख entrance exams के नाम हैं-

1. UPSEE

UPSEE एक राज्य स्तर की परीक्षा होती है जो उत्तर प्रदेश में मैनेजमेंट में बैचलर और मास्टर प्रोग्राम के एडमिशन के लिए कराई जाती है।

यह पेपर हिंदी और इंग्लिश दोनों भाषाओं में होती है।

2. GNIHM JET

GNIHM JET एक राष्ट्रीय स्तर की परीक्षा होती है।

चूंकि यह एक ज्वाइंट एंट्रेंस टेस्ट है इसलिए इस एग्जाम के जरिए विद्यार्थी BHM के अलावा अन्य courses जैसे – BHMCT, होटल मैनेजमेंट या हॉस्पिटैलिटी मैनेजमेंट में बीएससी आदि में भी एडमिशन पा सकता है।

3. NCHMCT JEE

NCHMCT राज्य स्तर की ज्वाइंट एंट्रेंस एग्जाम है यानी इसके जरिए भी BHM के अलावा अन्य courses में भी एडमिशन पा सकते हैं।

4. AIMA UGAT

AIMA UGAT नेशनल लेवल का एग्जाम होता है, जो AIMA आयोजित करवाता है।

इस exam के जरिए भी कई सारे courses जैसे – Integrated MBA, BHM, BCA, B.Com आदि में एडमिशन पा सकते हैं।

5. AIHMCT WAT

यह एक कॉलेज स्तर की परीक्षा होती है जिसके जरिए AIHMCT कॉलेज में एडमिशन लिया जा सकता।

अगर आपके पिता भारतीय सेना में काम करते हैं या काम कर चुके हैं तभी आप AIHMCT WAT एग्जाम देने के लिए eligible हैं।

Bachelor Of Hotel Management (BHM) course fees

सरकारी कॉलेज में BHM कोर्स की 3 या 4 साल की कुल फीस लगभग 1 से 3 लाख रुपए हो सकती है।

जबकि प्राइवेट कॉलेज में BHM कोर्स की 3 या 4 साल की कुल फीस लगभग 3 से 10 लाख रुपए तक हो सकती है।

बीएचएम में क्या पढ़ाया जाता है (BHM Syllabus / Subjects)

इंडिया के ज्यादातर कॉलेजों में BHM डिग्री कोर्स में जो subjects पढ़ाए जाते हैं, उनके नाम हैं –

  • Food Production Foundation
  • General English
  • Food & Beverage Service
  • Applications to Computers
  • Food Safety & Hygiene
  • Food Science & Nutrition
  • Hotel Housekeeping
  • Food Production Operation
  • Hotel Accounting
  • Front Office Operations
  • Housekeeping Operations
  • Financial Management
  • Managerial Economics
  • Hotel Costing & Management Accounting
  • Principles of Management
  • Travel & Tourism Management

बीएचएम कोर्स के लिए आवश्यक Skills

बीएचएम कोर्स में एडमिशन पाने के लिए इच्छुक विद्यार्थी के भीतर कुछ खास skills का होना आवश्यक है।

ताकि विद्यार्थी को आगे चलकर BHM की पढ़ाई में कोई दिक्कत ना आए और पढ़ाई खत्म होने के बाद उसे एक अच्छी जॉब मिल सके।

1. Communication skills

बीएचएम कोर्स के बाद जो भी नौकरी मिलेगी, उसमें आपको रोज नए-नए लोगों से मिलना होगा और बात करना होगा।

कोई ऐसा विद्यार्थी जिसकी Communication skills बिल्कुल बेकार हो, वह इस पढ़ाई के बाद कोई जॉब नहीं कर पाएगा।

इसलिए इस कोर्स में एडमिशन कराने से पहले ही विद्यार्थी को अपनी Communication skills को मजबूत कर लेना चाहिए।

2. Good listener

दूसरे की बात को ना सुनते हुए सिर्फ अपनी बात को साफ-साफ रख देने से कोई व्यक्ति अच्छा communicator नहीं बन जाता है।

अच्छा communicator बनने के लिए दूसरे की बात को ध्यान से सुनना और समझने की क्षमता भी होनी चाहिए।

3. English speaking

वैसे कोई खास rule नहीं है कि आपको English speaking आनी ही चाहिए।

लेकिन फिर भी अगर आप BHM कोर्स के बाद किसी बड़े होटल में काम करने का सपना देख रहें हैं तो English speaking आना बहुत जरूरी है।

अगर आपको अभी इंग्लिश नही आती तो कोई बात नही आप इसे बाद में भी सीख सकते  है |

4. Pleasant personality

विद्यार्थी का व्यक्तित्व आकर्षक और प्रभावशाली होना चाहिए।

खराब व्यक्तित्व वाले व्यक्ति को कोई पसंद नहीं करता और ऐसे व्यक्ति को किसी होटल में नौकरी मिलना असंभव है।

5. Confidence

BHM का कोर्स करने वाले उम्मीदवार को खुद पर Confidence होना चाहिए और वह Confidence उसके व्यक्तित्व से झलकना चाहिए।

अगर आपके अन्दर आत्म-विश्वास रहेगा तो आप कोई भी काम में सफलता हासिल कर सकते है |

BHM best colleges in India

बीएचएम डिग्री के लिए इंडिया में प्राइवेट और सरकारी दोनों तरह के कॉलेज उपलब्ध हैं।

हम यहां आपको कुछ प्रमुख BHM government और private colleges और Institute के बारे में बताएंगे।

Government Colleges for BHM course

  1. Mjp Rohilkhand University, बरेली
  2. Punjabi University, पटियाला
  3. GIHM ALMORA, अल्मोड़ा
  4. JMI University, नई दिल्ली

Private Colleges for BHM course

  1. WGSHA, मणिपाल कर्नाटक
  2. AIHMCT, बैंगलोर कर्नाटक
  3. IMS Unison University, देहरादून
  4. Amity University, लखनऊ UP
  5. AIMS Institutes, बैंगलोर कर्नाटक
  6. UEI Global Rohini, नई दिल्ली
  7. UEI Global Chandigarh, चंडीगढ़

BHM open University

अगर आप रोज कॉलेज नहीं जाना चाहते और distance education की मदद से BHM degree हासिल करना चाहते हैं तो इसके लिए आपको open university में एडमिशन कराना चाहिए।

बीएचएम कोर्स कराने वाले कुछ प्रमुख open university के नाम हैं –

  1. Uttarakhand open University
  2. BRAOU, हैदराबाद तेलंगाना
BHM Course kya hai puri jankari
BHM Course kya hai puri jankari

बीएचएम के बाद क्या करें ?

अगर आप BHM डिग्री लेने के बाद आगे और पढ़ना चाहते हैं तो आप इनमें से किसी एक course में एडमिशन करा सकते हैं –

BHM के बाद कोर्सेज

1. MHM (Master of Hotel Management)

यह दो साल का मैनेजमेंट का पोस्ट ग्रेजुएशन कोर्स है। इसमें आपको मुख्यता प्रबंधन और प्रशासन तकनीक के बारे में पढ़ाया जाएगा।

MHM कोर्स में एडमिशन पाने के लिए आप एंट्रेंस एग्जाम दे सकते हैं या सीधे मेरिट के आधार पर एडमिशन पा सकते हैं।

2. PGD in Hotel management

अलग-अलग कॉलेज में Hotel management में post graduation diploma कोर्स 1 से 2 का होता है।

इसमें hotel और hospitality industry दोनों के बारे पढ़ाया जाता है।

3. Executive MBA (EMBA)

किसी भी कंपनी में सीधे बड़े पद पर नौकरी पाने के लिए MBA से ज्यादा आसान रास्ता और कुछ नहीं हो सकता है।

Executive MBA का कोर्स 1 साल का होता है। कुछ कॉलेजों में यह कोर्स 15 से 18 महीने का भी होता है।

4. MBA in Event Management

Event Management में MBA का कोर्स पूरे 2 साल का होता है।

इसमें organizational meetings, corporate parties, business promotions आदि को प्रोफेशनल तरीके से मैनेज करने के बारे के सिखाया जाता है।

BHM Graduate jobs in India

एक अच्छे कॉलेज या यूनिवर्सिटी से BHM का कोर्स पूरा करने वाले उम्मीदवार के पास बहुत सी job opportunities होती हैं। जैसे –

  • Receptionist
  • Food & Beverage executive
  • Cabin Crew
  • Hotel Manager
  • Executive Housekeeper
  • Front office executive
  • Kitchen Chef
  • Accounting Manager

बीएचएम का कोर्स पूरा करने के बाद बड़े-बड़े होटल में जॉब के लिए अप्लाई कर सकते हैं।

BHM करने के बाद सैलरी ?

बीएचएम का कोर्स पूरा करने के बाद उम्मीदवार की शुरुआती वार्षिक सैलरी 3 से 6 लाख रुपए हो सकती है। धीर-धीरे work experience बढ़ने के साथ ही सैलरी भी बढ़ेगी और आप 20 लाख रुपए सालाना कमा सकेंगे।

बीएचएम कोर्स करने के फायदे

बीएचएम कोर्स करने के बहुत से फायदे हैं जैसे –

कई क्षेत्रों में नौकरियां

BHM course के बाद उम्मीदवार के नौकरी के ढेर सारे विकल्प मौजूद होते हैं।

यह जरूरी नहीं कि बीएचएम के बाद केवल होटल में ही नौकरी किया जाए। उम्मीदवार चाहे तो रिजॉर्ट्स, किसी गेस्ट हाउस या किसी बड़ी मैनेजमेंट कंपनी में भी आसानी से नौकरी पा सकता है।

अच्छी तनख्वाह

जैसा कि हमने पहले ही बताया कि होटल मैनेजमेंट में नौकरियों की भरमार है।

ऐसे में किसी बड़ी कंपनी या होटल में काम करने उम्मीदवार शुरुआती दौर में ही लगभग एक महीने के 50 हजार रुपए तक कमा सकता है।

कौशल और व्यक्तित्व का विकास

BHM की पढ़ाई का सिलेबस कुछ इस तरह से बनाया गया है कि इसमें विद्यार्थी के personality और skills का development होता है।

एक अच्छी, आकर्षक और प्रभावशाली personality के साथ किसी भी व्यक्ति को अपने जीवन में सफलता हासिल करने में आसानी होती है।

लगातार सीखने का मौका

बीएचएम की पढ़ाई के बाद जो जॉब मिलेगी उसमें आपको रोज नए नए लोगों से मिलने का मौका मिलेगा, जिनसे बात करके आप निश्चित तौर पर बहुत कुछ सीख पाएंगे।

Bachelor of Hotel management FAQs in Hindi

प्रश्न: बीएचएम के बाद कौन से Sectors (क्षेत्र) में नौकरी मिलती है?

उत्तर: BHM के बाद आपको इन Sectors(क्षेत्र) में नौकरी मिल सकती है –

  • होटल
  • क्रूज शिप
  • मोटल(Motels)
  • अकादमी सस्थान
  • रिजॉर्ट (resorts)
  • मैनेजमेंट कंपनी

प्रश्न: Hotel management और Hospitality management में क्या अंतर (difference) है?

उत्तर: होटल मैनेजमेंट, हॉस्पिटैलिटी मैनेजमेंट के तुलना में थोड़ा छोटा क्षेत्र है।

Hotel management में केवल होटल के मैनेजमेंट से जुड़ी चीजें सिखाई जाती हैं। जबकि Hospitality management में खानपान, ट्रैवल, इवेंट मैनेजमेंट आदि चीजें भी सिखाई जाती हैं।

इसलिए Hotel management की तुलना में Hospitality management के कोर्स के बाद उम्मीदवार के पास job opportunities ज्यादा रहती हैं।

प्रश्न: BHM और BHMCT में क्या अंतर (difference) है?

उत्तर: BHM में केवल होटल मैनेजमेंट के बारे में सीखते हैं जबकि BHMCT में होटल मैनेजमेंट के साथ-साथ केटरिंग टेक्निक के बारे में भी सीखते हैं।

निष्कर्ष – BHM Course kya hai

  • BHM तीन साल का होटल मैनेजमेंट का बैचलर कोर्स है, जिसमें विद्यार्थी को होटल के कामकाजों का प्रबंधन सिखाया जाता है।
  • किसी भी स्ट्रीम से 12 वीं पास विद्यार्थी इस कोर्स को करने के eligible है।
  • सरकारी और प्राइवेट कॉलेज मिलाकर बीएचएम कोर्स की फीस लगभग 1 से 10 लाख के बीच होती है।
  • शुरुआत में BHM कोर्स के बाद मिलने वाली job में एक महीने की सैलरी लगभग 25 से 50 हजार रुपए होती है।

 

तो इसी के साथ हमारा यह आर्टिकल “BHM course kya hai” समाप्त होता है।

हमे उम्मीद है कि आपको अब समझ आ गया होगा कि BHM course kya hota hai और BHM की फीस कितनी होती है |

फिर अगर आपको कुछ सवाल पूछना हो तो कमेंट कर के जरुर पूछे और इस आर्टिकल को शेयर भी कर दीजिये  और ज्यादा जानकारी के लिए आप हमारे होम पेज पर जरुर जाएँ

और ज्यादा जानने के लिए – होम पेज पर जाएँ

Leave a Comment