AYUSH ARENA

GK Quiz Competition

[2022] अप्रेंटिस (Apprentice) क्या होता है – अप्रेंटिसशिप की A to Z पूरी जानकारी

Apprentice kya hota hai – चाहे आप जिस भी आयु वर्ग से संबंध रखते हैं मतलब आप युवा हो या वृद्ध आपने कभी ना कभी किसी ना किसी माध्यम से अप्रेंटिसशिप (apprenticeship) का नाम जरूर सुना होगा।

आयेदिन हम अखबारों में, टीवी चैनलों पर ,कंपनी के इस्तिहारों या जाब वेबसाइटों में विभिन्न apprenticeship जैसे – IOCL apprenticeship, railway apprenticeship, ONGC apprenticeship के बारे-के में सुनते या देखते रहते हैं,

Advertisement

लेकिन क्या आप जानते हैं की अप्रेंटिस क्या होता है  (Apprentice kya hota hai) और कैसे की जाती है?

आपके मन में भी अप्रेंटिसशिप से जुड़े विभिन्न प्रकार के प्रश्न और रहे होंगे जैसे अप्रेंटिसशिप क्या है और अप्रेंटिस कैसे करें, अप्रेंटिस के लिए कैसे अप्लाई किया जाता है?

इन सभी प्रश्नों के जवाब आज आपको इस लेख में मिल जाएंगे, यदि आप भी अप्रेंटिसशिप के बारे में पूरी जानकारी पाना चाहते है या अप्रेंटिसशिप करना चाहते हैं तो इस लेख को पूरा जरूर पढ़ें क्योंकि इस लेख में अप्रेंटिसशिप के बारे में पूरी डिटेल कवर की गई है।

apprentice kya hota hai
apprentice kya hota hai

इस लेख को पूरा पढ़ लेने के बाद आपको अच्छी तरह समझ आ जाएगा कि अप्रेंटिस क्या होता है (Apprentice kya hota hai) और अप्रेंटिस कैसे करें ?

विज्ञान के क्षेत्र में हो रही प्रगति और उन्नति के कारण तकनीकी विकास के प्रसार से धीरे धीरे अप्रेंटिसशिप की डिमांड बढ़ रही है,

कंपनियों में मात्र अप्रेंटिसशिप करने के लिए लाखों की संख्या में आवेदन पत्र भरे जाते हैं अप्रेंटिसशिप करने से हमें प्रैक्टिकल नॉलेज तो मिलता ही है इसके साथ ही साथ शुरुआती दिनों में जॉब पाने में यह हमारी बहुत मदद करता है।

अप्रेंटिस क्या होता है (Apprentice kya hota hai) –

अगर हम सीधे शब्दों में कहें तो अप्रेंटिसशिप एक प्रकार का ट्रेनिंग पीरियड होता है जिसमें अभ्यर्थी को इंडस्ट्रियल वर्क के लिए ट्रेंड किया जाता है,  इस टाइम पीरियड के दौरान अभ्यार्थी को एक सामान्य वर्कर की तरह कार्य करना होता है जिसमें उसे किसी इंडस्ट्री में काम करने का अनुभव मिलता है।

अप्रेंटिसशिप के दौरान कैंडिडेट को थ्योरेटिकल नॉलेज ना बताते हुए प्रैक्टिकल नॉलेज पर फोकस किया जाता है जिससे उसके कार्य कौशल में निखार लाया जाता है |

अप्रेंटिसशिप में कैंडिडेट की किसी भी प्रकार की क्लास नहीं ली जाती है बल्कि उसे उस इंडस्ट्री के प्लांट में जाकर एक वर्कर की तरह कार्य करना होता है जहां पर उसे प्रशिक्षण दिया जाता है।

अप्रेंटिस का हिंदी मैं मतलब प्रशिक्षु होता है और अप्रेंटिसशिप का मतलब प्रशिक्षण |

तो जैसा कि इन दोनों के नाम से ही स्पष्ट है की अभ्यर्थियों को अप्रेंटिसशिप के दौरान प्रशिक्षण दिया जाता है और जो अभ्यर्थी प्रशिक्षण लेते हैं उन्हें प्रशिक्षु कहते हैं।

अप्रेंटिस कितने समय का होता है ?

अप्रेंटिसशिप ट्रेनिंग 3 महीने से लेकर 4 साल तक की हो सकती है लेकिन अधिकतर अप्रेंटिसशिप ट्रेनिंग 6 महीने से लेकर 1 साल तक की ही होती है।

हम अप्रेंटिस क्या है के बारे में अच्छी तरह से जान चुके हैं अब आगे अप्रेंटिस के लिए योग्यता के बारे में जान लेते हैं।

अप्रेंटिसशिप करने की योग्यता

अप्रेंटिसशिप हर वह व्यक्ति कर सकता है जिसने बारहवीं विज्ञान विषय के साथ पास की हो इसके अलावा अप्रेंटिसशिप करने का क्राइटेरिया सभी कंपनियों का अपने अनुसार अलग-अलग होता है |

अगर हम रेलवे की बात करें तो रेलवे में आयोजित अधिकतर अप्रेंटिसशिप प्रोग्राम ट्रेड अप्रेंटिसशिप होते हैं जिनमें भौतिक विज्ञान रसायन विज्ञान और गणित विषय के साथ बारहवीं तथा आईटीआई संबंधित ट्रेड में मांगा जाता है |

इसी प्रकार सभी अन्य ट्रेड के लिए योग्यताएं अलग-अलग होती हैं |

इसे भी पढ़े – आईटीआई कोर्स क्या है | आईटीआई Best Trade जानें |

अप्रेंटिसशिप के लिए Age-Limit

अप्रेंटिसशिप के लिए उम्र-सीमा की बात करें तो इसमें न्यूनतम उम्र-सीमा 16 वर्ष है और अधिकतम कोई उम्र-सीमा नही है यानी कि 16 वर्ष के बाद आप कभी भी अप्रेंटिसशिप कर सकते है |

कहीं-कहीं न्यूनतम उम्र-सीमा 14 वर्ष भी होती है |

अप्रेंटिसशिप के लिए आवेदन कैसे करें ?

अप्रेंटिसशिप के लिए आवेदन  आप ऑनलाइन माध्यम से कर सकते है |

जब भी वाकान्च्य आये तो आप उसकी ऑफिसियल वेबसाइट पर जाकर ऑनलाइन आवेदन कर सकते है |

अप्रेंटिसशिप में चयन कैसे होता है ?

अप्रेंटिसशिप में चयन प्रक्रिया को लेकर बहुत सारे छात्रों के मन में बहुत सारे सवाल होते है , उन्हें नही पता होता है कि अप्रेंटिसशिप के लिए कोई एक्साम्देना पड़ता है या नही ?

मई आपको बताना चाहूँगा कि अप्रेंटिसशिप के लिए कोई भी एग्जाम नही होता है , आप जिस भी भी क्वालिफिकेशन के आधार पर कर रहे है उसी के द्वारा आपका सिलेक्शन होता है |

सभी छात्रों की एक मेरिट लिस्ट बने जाती है और जिसके ज्यादा मार्क्स (आईटीआई, डिप्लोमा, बी.टेक में) होते है उनका सिलेक्शन हो जाता है

अप्रेंटिसशिप के प्रकार

अप्रेंटिसशिप सरकारी और गैर सरकारी निकायों के अंतर्गत कई प्रकार की होती है जिम के बारे में नीचे बताया गया है-

  1. ग्रैजुएट अप्रेंटिसशिप – इस प्रकार के अप्रेंटिसशिप प्रोग्राम में केवल तकनीकी क्षेत्र से ग्रेजुएट ई एलिजिबल होते हैं , ग्रेजुएट अप्रेंटिसशिप ट्रेनिंग प्रोग्राम मुख्य रूप से इंजीनियरिंग (BE/B.tech) कर चुके छात्रों के लिए होता है।
  2.  ट्रेड अप्रेंटिसशिप – यह अप्रेंटिसशिप में सबसे पॉपुलर ट्रेनिंग प्रोग्राम होता है | इस प्रकार की अप्रेंटिसशिप में आईटीआई के स्टूडेंट भाग लेते हैं, भारतीय रेलवे द्वारा अधिकतर आयोजित अप्रेंटिसशिप प्रोग्राम ट्रेड अप्रेंटिस से प्रोग्राम होते हैं। जिनमें से कुछ paid प्रोग्राम और कुछ free प्रोग्राम होते हैं।
  3. तकनीकि अप्रेटिसशिप – इस प्रकार की अप्रेंटिसशिप को पॉलिटेक्निक और इंजीनियरिंग के क्षेत्र में डिप्लोमा करने वाले स्टूडेंट्स द्वारा किया जाता है। टेक्नीशियन अप्रेंटिसशिप करने के बाद अभ्यर्थियों के लिए प्राइवेट इंडस्ट्री में बहुत सारे जॉब के विकल्प खुल जाते हैं।

 

इसे भी पढ़े – इंजीनियर बनने के लिए क्या करें, ,कितना पैसा लगेगा ?

इसे भी पढ़े – पॉलिटेक्निक क्या है – पॉलिटेक्निक कोर्स , फीस, सैलरी

अप्रेंटिसशिप ऑफर करने वाली मुख्य कंपनियो के नाम –

हमने अब तक जाना कि अप्रेंटिस क्या होता हिया , अप्रेंटिसके लिए क्या योग्यता चाहिए ,

अब आपके मन में एक सवाल जरुर आ रहा होगा कि ऐसी कौन सी कंपनी है जी कि आपके लिए अप्रेंटिसशिप के लिए ऑफर देगी जहाँ से आप अपनी अप्रेंटिसशिप की तिंग पूरी कर सकते है |

वैसे कंपनियां तो बहुत सी है लेकिन हम यहाँ पर आपको कुछ नुख्य कंपनियो के ही नाम बताएँगे जहाँ रेगुलर अप्रेंटिसशिप के लिए vacancy निकलती रहती है –

अप्रेंटिसशिप ऑफर करने वाली कंपनियो के नाम निम्नलिखित है –

  1. CIL ( Coal India Limited)
  2. ONCG ( Oil & Natural Gas Corporation)
  3. DRDO & ISRO
  4. Indian Railway
  5. IOCL ( Indian Oil Corporation Limited)

इसके अलावा और भी कुछ कंपनियां है जो अप्रेंटिसशिप ऑफर करती है , अगर आपको पूरी लिस्ट चाहिए तो कमेंट कर के जरुर बताये

apprentice in hindi purj jankari
apprentice in hindi puri jankari

अप्रेंटिस सरकारी होता है या प्राइवेट ?

अप्रेंटिसशिप भी कई प्रकार के होते हैं कुछ अप्रेंटिसशिप ट्रेनिंग प्रोग्राम सरकारी होते हैं तो कुछ प्राइवेट जिनके अपने अलग-अलग टर्म्स एंड कंडीशन सौर एलिजिबिलिटी क्राइटेरिया होते हैं।

यानी अगर कुल मिलाकर कहें तो यदि आप अप्रेंटिसशिप कर लेते हैं तो आपको जॉब मिलने में काफी हद तक आसानी हो जाती है।

साथ ही साथ आप किस थ्योरी नॉलेज को प्रैक्टिकली अप्लाई करके संबंधित क्षेत्र में अधिक नालेज ले पातें हैं।

अप्रेंटिस में किस-किस तरह की ट्रेनिंग मिलती है ?

अप्रेंटिस में बहुत तरह की ट्रेनिंग आपको दी जाती है , जिससे फायदा ये होता है कि आप जिस भी क्षेत्र से है, उससे रिलेटेड आपको ट्रेनिग दी जा सके और आपके इंडस्ट्रियल अनुभव को बढाया जा सके |

फिर भी हम देखे तो आईटीआई में जितने trade आते है उन सबकी ट्रेनिंग आपको अप्रेंटिस में मिल जाती है –

अप्रेंटिस में मिलने वाली मुख्य ट्रेनिंग की लिस्ट निम्नलिखित है –

  • Gas Cutter
  • Mechanic (All Types)
  • Optical Worker
  • Pipe Fitter
  • Plumber
  • Power Electrician
  • Pump Operator
  • Sheet Metal Worker
  • Technician
  • Tool & Die Maker
  • Tractor Machemic
  • Welder
  • Wireman etc.

अप्रेंटिस करने पर कितनी सैलरी मिलती है ?

दोस्तों अगर आप अप्रेंटिस करते है तो आपका प्रक्टिक्ले नॉलेज तो बढ़ता ही है साथ-ही-साथ आपको stipend के रूप में कुछ पैसे भी मिल जाते है |

जब तक आप किसी कंपनी में अप्रेंटिस की ट्रेनिंग लेते है तो आपको stipend मिलती है , ये अलग -अलग कोमप्न्य में अलग-अलग हो सकती है |

आपको कितना stipend मिलेगा ये इस बात पर भी निर्भर करता है कि आप किस टाइप का अप्रेंटिसट्रेनिंग ले रहे है यानी की आप ग्रेजुएट अप्रेंटिसशिप कर रहे या डिप्लोमा या फिट आईटीआई अप्रेंटिसशिप |

फिर भी एक अनुमान बताया jaye तो आपकी stipend करीब 7000 से 10,000 रूपये तक हो सकती है , जैसा की मैंने पहले ही बिओला इसमें कोमप्न्य के अनुसार बदलाव आ सकता है |

अप्रेंटिस के फायदे क्या हैं ?

जब भी हम कोई कोर्स करते हैं तब हमें हम उस कोर्स के फायदे के बारे में जानने की कोशिश जरूर करते हैं जैसा की आप सभी को पता ही है कि आज के समय में रोजगार मिलना कितना कठिन है, सरकारी नौकरी हो या प्राइवेट दोनों में ही लाखों लाखों लोगों की भीड़ पहले से ही लगी हुई होती है |

ऐसे में अगर हमारे पास कोई एक्स्ट्रा करिकुलम एक्टिविटी का सर्टिफिकेट होता है तब हम उन लाखों की भीड़ में आगे आ जाते हैं और इस स्थिति में जॉब पाने के चांसेस काफी हद तक बढ़ जाते हैं।

यदि आप अप्रेंटिसशिप कर लेते हैं तो आप अपने क्षेत्र से संबंधित किसी भी इंडस्ट्री में काम करने के लिए एलिजिबल हो जाते हैं और जब भी उस कंपनी में वैकेंसी निकलती हैं और आप उस पद के लिए अप्लाई करते हैं तो आप को प्राथमिकता दी जाती है |

आपके अप्रेंटिस ट्रेनिंग प्रोग्राम के आधार पर ही आपका सिलेक्शन भी लिया जाता है। अगर एक प्रकार से कहें तो यह अप्रेंटिसशिप का सर्टिफिकेट आपको दूसरों से अलग बनाता है।

निष्कर्ष – Apprentice kya hota hai

दोस्तों आज के इस लेख में हमने अप्रेंटिसशिप क्या है के बारे में पूरी जानकारी ली उसके साथ ही साथ अप्रेंटिसशिप करने की योग्यता क्या होती है अप्रेंटिसशिप कितने दिनों का कोर्स होता है, अप्रेंटिसशिप कितने प्रकार की होती है, अप्रेंटिसशिप करने के क्या फायदे होते हैं के बारे में जाना है |

यदि आपको यह लेख अप्रेंटिसशिप क्या है पसंद आया है तो इसे अपने मित्रों/सहपाठियों के साथ जरूर शेयर करें जिससे उन्हें भी अपरेंटिस के बारे में जानकारी मिल सके और भविष्य में वह क्षेत्र में अपना करियर सुनिश्चित कर सकें।

अगर आपको कुछ पूछना हो तो कमेंट जरुर्कारें और कमेंट कर के ये भी बताये कि आपको ये आर्टिकल कैसा लगा ,

हमने आपके लिए बहुत से महत्वपूर्ण आर्टिकल लिखे है उन्हें भी जरुर पढ़िए-

ज्यादा जानकारी के लिए – होम पेज पर जाएँ 

Leave a Comment