AYUSH ARENA

GK Quiz Competition

[2022] SSC Exam kya hota hai – SSC के सभी परीक्षाओ की पूरी जानकारी

हैलो फ्रेंड्स! आज हम आपको बताएंगे SSC exam kya hota hai.(SSC Exam Details in Hindi)

आप सबने SSC exam के बारे में जरूर सुना होगा। लेकिन ये कोई एक एग्जाम नहीं है। SSC के अंतर्गत बहुत से एग्जाम आते हैं।

कुछ एग्जाम ग्रेजुएशन के बाद होते हैं जबकि कुछ तो आप 10th के बाद भी दे सकते हैं यानि आप SSC Exam देकर प्यून से लेकर अधिकारी लेवल तक की सरकारी जॉब पा सकते हैं।

इसलिए हम आज इस आर्टिकल में एसएससी के सभी एग्जाम के बारे में डीटेल में बताएंगे ताकि आपको ये समझने में आसानी हो कि आप इनमें से कौन से एग्जाम दे सकते हैं।

इसमें  SSC online exam kaise hote hai और SSC exam की तैयारी कैसे करें, जैसी बातों पर भी फोकस किया जाएगा। इसलिए आप ये आर्टिकल पूरा पढ़िएगा।

इस आर्टिकल में आप पढ़ेंगे

  • SSC kya hota hai
  • SSC ka full form kya hai,
  • SSC exam kya hota hai,
  • SSC ka exam kaise hota hai, S
  • SC exam के लिए योग्यता,
  • SSC online exam kaise hote hai,
  • SSC CHSL exam क्या होता है?
  • SSC CGL exam kya hota hai?
  • SSC JE exam kya hai,
  • SSC CPO क्या होता है?
  • SSC Steno Grade C and D exam kya hota hai,
  • SSC GD Constable exam details,
  • SSC MTS क्या होता है,
  • SSC JHT exam की जानकारी और
  • एसएससी एग्जाम की तैयारी कैसे करें।
    तो आपने देखा हम आज SSC Exam की पूरी जानकारी प्राप्त करेंगे |

SSC kya hota hai? SSC ka full form kya hai ?

दोस्तों SSC भारत सरकार की एक संस्था है जो बहुत सी सरकारी नौकरियों में भर्ती के लिए एग्जाम लेती है। इसकी स्थापना साल 1975 में हुई थी।

एसएससी के माध्यम से हर साल लाखों युवा रोजगार पाने के अपने सपने को पूरा करने की कोशिश करते हैं।

SSC ka full form –

SSC ka full form है Staff Selection Commission.

इसे हिंदी में कर्मचारी चयन आयोग कहा जाता है। पहले इसका नाम Subordinate Service Commission था। 1977 में इसे बदला गया। इसका मुख्यालय दिल्ली में है।

Advertisement

SSC exam kya hota hai ?

हर साल केंद्र सरकार के विभागों में नौकरियां निकलती हैं। कुछ एग्जाम और सलेक्शन तो departmental level पर होते हैं। बाकी के लिए SSC ऑल इंडिया लेवल पर एग्जाम कंडक्ट करती है। इनको SSC exam कहा जाता है।

ये एग्जाम हैं

  1. SSC CHSL
  2. SSC CGL
  3. SSC JE
  4. SSC CPO
  5. SSC Steno
  6. SSC GD Constable
  7. SSC MTS
  8. SSC JHT exam

SSC ka exam kaise hota hai ?

केंद्र सरकार के विभागों में हर साल कुछ vacancies निकलती हैं। SSC की तरफ से इनके बारे में समय-समय पर नोटिफिकेशन जारी किया जाता है।

ये नोटिफिकेशन आपको SSC की वेबसाइट और सभी प्रमुख अखबारों और कॉम्पिटीटिव मैग्जीन में मिल जाता है। इस नोटिफिकेशन में सारी डीटेल होती है जैसे किस पोस्ट के लिए कितनी वेकेंसी हैं, फार्म भरने की आखिरी तारीख क्या है, आवेदन कैसे करना है, एग्जाम की तारीख क्या है।

इन सबसे उम्मीदवार अपनी योग्यता समझकर सूटेबल और मनपसंद एग्जाम के लिए अप्लाई करते हैं। SSC अलग-अलग पोस्ट के लिए एग्जाम लेती है। इसलिए SSC का एग्जाम कई चरणों में होता है। जैसे कि SSC online exam.

हमने आगे आपको हर एग्जाम के बारे में डीटेल में बताया है। हम आपको ये भी बताएंगे कि इन सब एग्जाम के
बाद कौन सी पोस्ट और कितनी सैलरी मिलती है। इससे आपको समझ आ जाएगा कि SSC ka exam kaise hota hai.

SSC exam के लिए योग्यता –

दोस्तों जैसा आपने ऊपर पढ़ा कि SSC में कितनी तरह के एग्जाम होते हैं। इनकी शैक्षिक योग्यता और उम्र सीमा अलग तय किए गए हैं। कुछ में शारीरिक मापदंड भी तय किए गए हैं।

आगे हम आपको हर एग्जाम की डीटेल के साथ उसकी योग्यता भी बताते जा रहे हैं। फिर भी हमारा अनुरोध है कि आप जिस भी एग्जाम के लिए अप्लाई करते हैं उसकी नोटिफिकेशन अच्छी तरह पढ़कर समझ लें। ताकि आप सही एग्जाम दे सकें।

SSC online exam kaise hote hai ?

दोस्तों SSC के ज्यादातर एग्जाम में कम से कम दो चरण जरूर होते हैं। पेपर 1 और पेपर 2.

इनमें से paper 1, CBT यानि Computer Based Test होता है।

जो ऑनलाइन टेस्ट होता है। ये एग्जाम भारत के बहुत से सेंटरों में होता है। इसलिए आप अपनी पसंद के मुताबिक 3 सेंटर चुन सकते हैं। इनमें से एक आपको मिल जाता है। इसका चयन सावधानी से करें क्योंकि आप बाद में सेंटर बदल नहीं सकते।

आपको अपने साथ admit card भी लेकर जाना होता है क्योंकि इसके बिना आपको एंट्री नहीं मिलेगी।

अगर आप ये राउंड क्लीयर करते हैं तो दूसरे राउंड के लिए नया एडमिट कार्ड जारी किया जाता है। उम्मीद है कि आपको ये अच्छी तरह समझ आ गया होगा कि SSC online exam kaise hota hai.

SSC CHSL exam क्या होता है?

Full form- SSC Combined Higher Secondary Level exam

SSC CHSL Qualification-

  • आपको किसी भी स्ट्रीम से बारहवीं पास होना चाहिए।
  • डिस्टेंस मोड से बारहवीं करने वाले उम्मीदवार भी ये एग्जाम दे सकते हैं।
  • यदि आप बारहवीं पढ़ रहे हैं तो भी ये एग्जाम दे सकते हैं लेकिन जॉइनिंग के वक्त आपको बारहवीं पास होना चाहिए ।
  • आपकी उम्र 18-27 वर्ष के बीच होनी चाहिए।
  • उम्र की गणना 1 जनवरी को आधार मानकर की जाती है।
  • सरकारी नियमों के अनुसार उम्र सीमा में छूट दी जाती है। (ये नियम हर एग्जाम में लागू होता है)।

SSC CHSL Exam pattern-

इस एग्जाम के तीन चरण होते हैं। Tier 1, 2 और 3.

Tier 1 exam ऑनलाइन यानि CBT होता है।

इसमें MCQ टाइप प्रश्न पूछे जाते हैं। ये कुल 100 प्रश्न होते हैं जिनके लिए 200 नंबर निर्धारित होते हैं।

इसमें रीजनिंग, जनरल अवेयरनेस, मैथ्स और इंग्लिश के प्रश्न होते हैं। हर सेक्शन में 25-25 प्रश्न होते हैं।

Tier 2– आप इसे तभी दे सकते हैं जब Tier 1 क्लीयर कर लें। ये एक ऑफलाइन एग्जाम होता है।

ये सब्जेक्टिव यानि descriptive type का पेपर होता है। इसमें निबंध और पत्र लेखन जैसे प्रश्न होते हैं। ये 100 नंबर का पेपर होता है।

Tier 1 और 2 दोनों के लिए एक घंटे का समय दिया जाता है। जब आप Tier 2 क्लीयर कर लेते हैं तो Tier 3 देना होता है।

Tier 3 exam बस क्वालीफाई करना होता है। ये आपकी स्किल जैसे कि टाइपिंग स्किल, कम्प्यूटर नॉलेज को परखने के लिए देना होता है। ये 15 मिनट का टेस्ट होता है।

SSC CHSL Selection process-

आपको ऑनलाइन आवेदन करना होता है। कुछ समय बाद आपको एडमिशन कार्ड डाउनलोड करना होता है। इसके बाद आप एग्जाम देते हैं।

यदि आप तीनों चरण पार कर लेते हैं तो आपके डॉक्यूमेंट का वेरिफिकेशन होता है। इसके बाद एक फाइनल लिस्ट बनाई जाती है। इसमें उम्मीदवारों की पसंद और मेरिट के आधार पर उनको जॉइनिंग दी जाती है।

Exam fee– सामान्य वर्ग, पुरुष उम्मीदवार 100 रुपए। बाकी सबके लिए फीस में छूट होती है।

नोट– दोस्तों SSC के बाकी एग्जाम में भी लगभग यही सलेक्शन प्रोसेस होता है। ऑनलाइन आवेदन करना होता है। जितने पेपर होते हैं वो क्लीयर करने पड़ते हैं।

अगर पोस्ट के लिए required हो तो शारीरिक मापदंड और मेडिकल फिटनेस टेस्ट से गुजरना पड़ता है। फिर डॉक्युमेंट्स वेरिफिकेशन किया जाता है।

अब कोविड की वजह से कुछ बदलाव किये जाते हैं। लेकिन बेसिक प्रोसेस आम तौर पर यही है।

कभी-कभी form में कुछ बदलाव होते है तो सही जानकारी के लिए आपको हर एग्जाम का नोटिफिकेशन अच्छी तरह पढ़ लेना चाहिए।

Post offered– भारत सरकार के विभागों, मंत्रालय और सचिवालय में ग्रेड सी के पद जैसे डाटा एंट्री ऑपरेटर, LDC, जूनियर असिस्टेंट, पोस्टल असिस्टेंट। इसमें नॉन टेक्निकल जॉब आती हैं।

सैलरी– SSC CHSL exam क्लीयर करने के बाद आपकी सैलरी कितनी होगी ये काफी हद तक आपकी पोस्ट और डिपार्टमेंट पर निर्भर करता है।

शुरुआत में सैलरी थोड़ी कम होती है और समय के साथ बढती जाती है | शुरुआत में आपको 30,000 रूपये के करीब सैलरी मिलती है , यह शहरो के अनुसार थोडा कम या ज्यादा हो सकता है |

SSC CGL exam kya hota hai ?

SSC CGL Full form– SSC Combined Graduate Level Exam

Qualification-

  • आपको किसी भी स्ट्रीम से ग्रेजुएट होना चाहिए।
  • फाइनल इयर के स्टूडेंट्स इस एग्जाम में बैठ सकते हैं लेकिन जॉइनिंग के वक्त आपके पास डिग्री होनी चाहिए।
  • कुछ पोस्ट के लिए खास विषयों या स्ट्रीम से पढ़े उम्मीदवारों का ही चयन किया जाता है। इसलिए आपको नोटिफिकेशन अच्छी तरह पढ़ना चाहिए।
  • उम्र सीमा 21-30 वर्ष होती है।

Exam pattern

SSC CGL exam में चार चरण होते हैं।

Tier 1– ये एक CBT यानि Computer Based Test होता है।

इसमें English Comprehension, Quantitative Aptitude, General Awareness और Reasoning के 25-25 प्रश्न होते हैं। ये 200
नंबर का पेपर होता है जिसे 1 घंटे में पूरा करना होता है।

ये objective type paper होता है। अगर आप इसमें मिनिमम कट ऑफ से ज्यादा नंबर ले आते हैं तभी Tier 2 दे सकते हैं। हर गलत जवाब
के लिए 0.50 नंबर काटे जाते हैं।

Tier 2– ये भी ऑनलाइन और MCQ type एग्जाम होता है। इसमें चार अलग पेपर होते हैं। इसमें हर पेपर के लिए 2 घंटे मिलते हैं। ये चार पेपर हैं

  1. Paper 1- Quantitative Abilities
  2. Paper 2- English Language and Comprehension
  3. Paper 3- Statistics
  4. Paper 4- Finance and Economics

Tier 2 क्लीयर करने के बाद आप Tier 3 का पेपर दे सकते हैं।

Tier 3- ये पेन और पेपर बेस्ड ऑफलाइन एग्जाम होता है। इसमें descriptive questions जैसे essay, application, precise writing पूछे जाते हैं। इसके लिए 1 घंटे का समय निर्धारित है। ये तीनों एग्जाम आप हिंदी या अंग्रेजी में दे सकते हैं।

Tier 4- ये एग्जाम data entry skill set और computer proficiency चेक करने के लिए लिया जाता है। इसके आधार पर इनको DEST और CPT कहा जाता है। इसके लिए 15 मिनट का समय मिलता है। ये बस क्वालीफाई करना होता है।

साल 2016 के पहले SSC CGL एग्जाम में इंटरव्यू भी लिया जाता था पर अब इंटरव्यू हटा दिया गया है।

नोट– हम आपसे अनुरोध करते हैं कि नीचे दिए गए सेक्शन को बहुत ध्यान से पढ़ें। क्योंकि इसमें काफी exception दिए गए हैं।

SSC CGL में सभी पोस्ट के लिए Tier 2 के दो पेपर देना जरूरी है। पेपर 3 उनको देना होता है जिन्होंने Junior Statistical Officer और Statistical Investigator जैसी पोस्ट के लिए आवेदन किया होता है।

इसी तरह पेपर 4 सिर्फ उनको देना होता है जिन्होंने Assistant Audit Officer या Assistant Accounts Officer जैसी पोस्ट के लिए अप्लाई किया होता है।

Tier 2 के पेपर 2 में गलत जवाब के लिए 0.25 नंबर की माइनस मार्किंग होती है। पेपर 1, 3 और 4 में 0.50 नंबर की माइनस मार्किंग होती है।

Tier 4 में DEST उनको देना होता है जो Tax Assistant, Upper Division Clerk, SSA जैसी पोस्ट के लिए अप्लाई करते हैं। इसमें key depression की गति चेक की जाती है।

CPT उनको देना होता है जो ASO, Inspector और Assistant GSI जैसी पोस्ट के लिए फार्म भरते हैं। इसमें key depression के साथ-साथ स्प्रेडशीट, स्लाइड बनाना जैसी स्किल चेक की जाती है।

Selection process

SSC CGL exam की नोटिफिकेशन आने पर आपको ऑनलाइन अप्लाई करना होता है। इसके बाद आप एग्जाम देते हैं।

एग्जाम के बाद डॉक्युमेंट्स का वेरिफिकेशन करके एक फाइनल मेरिट लिस्ट बनाई जाती है।

Post offered- ग्रुप सी की पोस्ट जैसे भारत सरकार के अंतर्गत आने वाले विभागों में इंस्पेक्टर, असिस्टेंट और examiner

सैलरी– 25,000 से 150,000

पहली बार में SSC CGL कैसे निकले – इंटरव्यू विडियो देखे –

SSC JE exam kya hai –

Full form– SSC Junior Engineer exam

Qualification-

  • आपकी उम्र 18 से 28 वर्ष होनी चाहिए।
  • आपको मेकेनिकल, सिविल, इलेक्ट्रिकल जैसी ब्रांच में बीई, बीटेक या डिप्लोमा होल्डर होना चाहिए।

Exam pattern-

पेपर 1 ऑनलाइन एग्जाम होता है इसमें कुल 200 प्रश्न होते हैं जिनके लिए आपको 2 घंटे का समय मिलता है हर प्रश्न के लिए एक नंबर निर्धारित है। गलत जवाब देने पर 0.25 नंबर की माइनस मार्किंग की जाती है।

इसमें इसमें जनरल अवेयरनेस और रीजनिंग के 2 सेक्शन होते हैं जिनमें 50- 50 सवाल होते हैं। तीसरा सेक्शन होता है आपके स्पेशलाइज सब्जेक्ट का जैसे कि मैकेनिकल या फिर सिविल।

इसमें आप से 100 सवाल पूछे जाते हैं आपसे जिस सेक्शन से भी अपनी पढ़ाई की हो उसी सेक्शन से जुड़े प्रश्नों का हल करना पड़ता है।

Paper 2 – पेपर टू ऑफलाइन डिस्क्रिप्टिव टाइप का पेपर होता है यह भी 2 घंटे का पेपर होता है लेकिन इसमें 300 मार्क्स होते हैं।

इसमें आपसे आपके सब्जेक्ट से जुड़े डिस्क्रिप्टिव टाइप के सवाल पूछे जाते हैं। पेपर वन की तरह ही आपने जो भी सब्जेक्ट से पढ़ाई की हो उसी सेक्शन से जुड़े सवालों को हल करने होते हैं।

इसमें कोई नेगेटिव मार्किंग नहीं होती है।

Post offered– इसमें आपको जेई यानि जूनियर इंजीनियर की पोस्ट ऑफर होती है। ये आपको CPWD, NTRO, CWC, MES जैसे विभागों में मिल सकती है। ये सब टेक्निकल जॉब होती हैं।

सैलरी– 35,000 से लेकर 125,000

SSC CPO kya hota hai

Full form– SSC Central Police Organisation exam

Qualification-

  • आपको किसी भी स्ट्रीम में ग्रेजुएट होना चाहिए।
  • उम्र सीमा 20-25 वर्ष होती है।

Exam pattern-

Paper 1- ये ऑब्जेक्टिव टाइप पेपर होता है। इसमें रीजनिंग, मैथ्स, जीके और इंग्लिश के 50-50 प्रश्न होते हैं। इसे सॉल्व करने के लिए 2 घंटे का समय मिलता है। हर गलत जवाब पर 0.25 नंबर कट जाते हैं।

PET and PST (Physical Endurance Test and Physical Standard Test) – अगर आपने पेपर 1 क्लीयर कर लिया तभी आप इस राउंड में जा सकते हैं।

PET में दौड़, हाई और लांग जंप जैसे टेस्ट होते हैं। PST में लंबाई, वजन जैसे पैरामीटर चेक किए जाते हैं।

Paper 2

जो उम्मीदवार PET क्लीयर कर लेते हैं वो पेपर 2 के लिए क्वालीफाई कर जाते हैं। पेपर 2 डिस्क्रिप्टिव टाइप का पेपर होता है। इसमें भी आपको 2 घंटे का समय मिलता है और इसमें 200 मार्क्स होते हैं। इसमें कोई नेगेटिव मार्किंग नहीं की जाती है।

इसमें आपसे इंग्लिश लैंग्वेज और comprehension से जुड़े सवाल पूछे जाते हैं इसमें भी माइनस मार्किंग नही होती है।

जब आप ये  राउंड भी पार कर लेते हैं तो फिर एक मेडिकल ऑफिसर के माध्यम से आपका मेडिकल एग्जामिनेशन किया जाता है अगर आप इसको भी पार कर लेते हैं तो फिर डॉक्युमेंट्स वेरिफिकेशन करना होता है। इसके बाद एक फाइनल मेरिट लिस्ट बनाई जाती है।

Post offred– Delhi Police, CAPF जैसे BSF, SSB, NSG, AR जैसे ऑर्गनाइजेशन में इंस्पेक्टर और असिस्टेंट सब इंस्पेक्टर

Salary– 35,000 से 115,000 रुप्य्र

SSC ka exam kaise hota hai
SSC ka exam kaise hota hai

SSC Steno Grade C and D exam kya hota hai

Full form– इसे एसएससी स्टेनोग्राफर या स्टेनो एग्जाम ही कहा जाता है।

Qualification-

  • आपको किसी भी स्ट्रीम में 12th पास होना चाहिए।
  • ग्रेड सी के लिए आपकी उम्र 18-30 वर्ष और डी के लिए 18-27 वर्ष होनी चाहिए।
  • किसी मान्यताप्राप्त इंस्टीट्यूट से स्टेनोग्राफी में डिप्लोमा होना चाहिए

Exam pattern

पेपर 1– ये CBT यानी ऑनलाइन  एग्जाम होता है। इसमें आपको दो घंटे में 200 सवाल हल करने होते हैं। गलत जवाब पर .25 नंबर काटे जाते हैं। इसमें रीजनिंग, जनरल अवेयरनेस से 50-50 और  English comprehension के 100 सवाल होते हैं।

Skill test

ये टेस्ट दस मिनट का होता है। इसमें आपको कम से कम 100 words per minute की गति से टाइप करना होता है। ग्रुप डी के लिए ये 80 limit words per minute होती है।

आपने फार्म भरते हुए हिंदी या इंग्लिश जो भी भाषा चुनी है उसी भाषा में टाइप करना होता है।

Post offered– ग्रुप सी और डी स्टेनोग्राफर की पोस्ट

सैलरी-ग्रेड सी 20,000 से 40,000

सैलरी ग्रेड डी– 15,000 से 25,000

SSC GD Constable exam details

Full form– SSC General Duty Constable exam

Qualification-

  • आपको कम से कम दसवीं पास होना चाहिए।
  • आपकी उम्र 18 से 23 वर्ष होनी चाहिए।

Exam pattern-

पेपर 1, 90 मिनट का CBT होता है। इसमें रीजनिंग, प्राइमरी लेवल का मैथ्स, हिंदी/इंग्लिश और जनरल अवेयरनेस के 25-25 सवाल होते हैं।

इसे क्लीयर करने पर PET and PST होता है। फाइनली एक मेडिकल एग्जामिनेशन होता है। इसके बाद डॉक्युमेंट वेरिफिकेशन करके मेरिट लिस्ट बनाई जाती है।

Post offered- इस एग्जाम के माध्यम से SSB, NIA, CISF, असम राइफल्स जैसे फोर्सेज में कांस्टेबल पद पर भर्ती की जाती है।

सैलरी– 20,000-30,000 महीना

SSC MTS क्या होता है ?

Full form– SSC Multi Tasking Staff

Qualification-

  • आपको कम से कम दसवीं पास होना चाहिए।
  • उम्र सीमा 18 से 25 वर्ष होनी चाहिए।

Exam pattern-

इसमें दो पेपर होते हैं। पेपर 1 और पेपर 2. पेपर 1 में ऑब्जेक्टिव टाइप प्रश्न होते हैं। इसके लिए 90 मिनट का समय दिया जाता है।

इसमें जीके, अंग्रेजी, मैथ्स और रिजनिंग से 25-25 प्रश्न पूछे जाते हैं। इसे क्लीयर करके आप पेपर 2 दे सकते हैं।

पेपर 2 descriptive type होता है। ये 50 नंबर का पेपर होता है जिसे 30 मिनट में सॉल्व करना होता है।

इसमें आपको छोटा निबंध या पत्र लिखना होता है। इसे हिंदी, अंग्रेजी या अन्य भारतीय भाषाओं में दिया जा सकता है।

Post offered- भारत सरकार के विभिन्न विभागों जैसे CAG, IT, सचिवालय, इंटेलिजेंस ब्यूरो, विजिलेंस कमीशन में ग्रुप डी की पोस्ट जैसे प्यून, माली, क्लीनर और वॉचमैन

Salary– 16,000 से 22,000

एसएससी एग्जाम की तैयारी कैसे करें?

Full form– SSC Junior Hindi Translaor exam

Qualification-

  1. आपकी उम्र सीमा 21-30 वर्ष होनी चाहिए।
  2. जूनियर हिंदी ट्रांसलेटर के लिए आपको किसी मान्यताप्राप्त यूनिवर्सिटी से पोस्ट ग्रेजुएट होना चाहिए।
  3. इसके साथ किसी मान्यताप्राप्त इंस्टीट्यूट से ट्रांसलेशन में डिप्लोमा होना चाहिए। ये डिप्लोमा हिंदी-इंग्लिश और इंग्लिश-हिंदी दोनों में होना चाहिए। या
  4. केंद्र या राज्य सरकार के ऑफिस में ट्रांसलेशन कार्य में दो साल का अनुभव होना चाहिए
  5. सीनियर हिंदी ट्रांसलेटर के लिए किसी मान्यताप्राप्त यूनिवर्सिटी से पोस्ट ग्रेजुएट होना चाहिए।
  6. पाइंट 3 क्वालीफाई करना चाहिए। या
  7. केंद्र या राज्य सरकार के ऑफिस में ट्रांसलेशन कार्य में तीन साल का अनुभव होना चाहिए

Exam pattern-

पेपर 1– ये एक computer based test होता है। इसमें हिंदी और इंग्लिश के ऑब्जेक्टिव टाइप 100- 100 प्रश्न पूछे जाते हैं। सही जवाब के लिए 1 नंबर मिलता है। गलत जवाब देने पर .25 नंबर काट दिए जाते हैं। इसके लिए दो घंटे का टाइम दिया जाता है।

पेपर 1 क्लीयर करने के बाद आप पेपर 2 दे सकते हैं। ये दो घंटे का ऑफलाइन एग्जाम होता है। इसमें ट्रांसलेशन करने और निबंध लिखने जैसे प्रश्न होते हैं। ये भी 200 नंबर का पेपर होता है।

Post offered– भारत सरकार के विभागों में जूनियर और सीनियर हिंदी ट्रांसलेटर, जूनियर ट्रांसलेटर और हिंदी प्राध्यापक की पोस्ट
Salary– 35,000 से 115,000

एसएससी एग्जाम की तैयारी कैसे करें?

दोस्तों सफलता पाने का कोई शॉर्टकट नहीं होता है। इसलिए अगर आप SSC एग्जाम में अच्छा प्रदर्शन करना चाहते हैं तो आपको पूरे मन से मेहनत करनी होगी।

हम आपको कुछ टिप्स दे रहे हैं जो आपके बहुत काम आएंगे।

  • आप जो भी एग्जाम दे रहे हैं उसका सिलेबस अच्छी तरह पता कीजिए।
  • अब एक टाइम टेबल बनाइए कि इतने समय में आपको ये सारा सिलेबस पूरा कर लेना है।
  • पढ़ने के लिए वही वक्त चुनिए जो आपको सबसे अच्छा लगता है।
  • हफ्ते भर में जो पढ़ें उसका रिवीजन जरूर करते जाएं।
  • आप ऑनलाइन स्टडी ग्रुप भी जॉइनकर सकते हैं।
  • अगर कोचिंग कर रहे हैं तो भी अपने तरफ से पढ़ाई जारी रखें। ये नहीं कि कोचिंग वाले ने जो पढ़ा दिया उतना काफी है।
  • करेअंट अफेयर्स पर नजर रखें। अखबार और न्यूज आपके काम आएंगे।
  • बीच-बीच में पढ़ाई से थोड़ा ब्रेक लें।
  • अपने खानपान का ध्यान रखें। फल, हरी सब्जियां, मेवे आपको तरोताजा रखते हैं और दिमाग तेज करते हैं।
  • अगर आपको लगता है कि आपकी अंग्रेजी या मैथ्स कमजोर है तो उस पर खास ध्यान दें।
  • आप पढ़ाई में किसी सीनियर की मदद ले सकते हैं।

एसएससी के किसी भी एग्जाम के लिए आपको अपनी जीके और करंट अफेयर्स को अच्छा करना होगा तभी आपके चयन के चांस ज्यादा होंगे,

इसीलिए हम अपने टेलीग्राम चैनल पर प्रतिदिन gk और करंट अफेयर्स से जुड़े प्रश्न पूछते रहते है तो आप हमारे टेलीग्राम चैनल से जरुर जुड़े और अपनी तैयारी और बेहतर करें-

GK & Current Affairs के लिए – Telegram

Conclusion – SSC exam kya hota hai.

दोस्तों आज हमने आपको उन सभी एग्जाम की जानकारी दी जो SSC की तरफ से कंडक्ट किए जाते हैं। आपने ये भी पढ़ा कि SSC ka exam kaise hota hai और SSC online exam kaise hote hai.

आपको ये आर्टिकल कैसा लगा हमें कमेंट सेक्शन में जरूर बताइए। अगर कोई सवाल, सुझाव या शिकायत है तो भी हमें कमेंट करके बताइए।

अगर आप एक स्टूडेंट हैं जो कॉम्पिटीटिव एग्जाम की तैयारी कर रहा है तो आपको हमारे होम पेज पर बहुत से ऐसे आर्टिकल मिलेंगे जो आपके काम आएंगे। एक बार समय निकालकर जरूर पढ़ें।

आप हमें यूट्यूब और इंस्टाग्राम पर भी मिल सकते हैं। अगर आपको हमारी दी गई जानकारी अच्छी लगी और हम आपकी मदद कर पाए तो हमें सब्सक्राइब करें और आर्टिकल को ज्यादा से ज्यादा शेयर करें।

ज्यादा जानकारी के लिए – होमपेज पर जाएँ

Leave a Comment